कहता है, लॉन्ग ड्राइव पर चलो या होटल में, VIDEO:बिजली विभाग की महिला कर्मी बोली- अफसर करता है टार्चर, कहता है यहां रहना है तो मेरी बात मानो

बुलंदशहरएक महीने पहले

बुलंदशहर में बिजली विभाग की एक महिला कर्मी ने अफसर पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। महिला ने बताया कि अफसर उसको साथ बैठने के लिए बोलता है। उसको लांग ड्राइव और होटल में चलने के लिए बोलता है। अफसर धमकी देता है कि अगर तुमने मेरी बात नहीं मानी तो तुमको नौकरी से निकाल देंगे। महिला ने इसकी शिकायत विभाग के चीफ इंजीनियर से की है। अफसर के ऊपर विभागीय जांच बैठा दी गई है। मामला ककोड़ बिजली घर का है।

महिला ने सुनाई आपबीती

मामले में महिला ने वीडियो भी बनाया है। जिसमें वह बता रही है कि, 'मैं बिजली बिल जमा करने का काम करती हूं। वहां पर एक अधिकारी मुझे टार्चर करता है। वो कहता है कि अगर यहां पर बैठोगी तो मेरा कहना मानना होगा, नहीं तो मैं तुमको यहां बैठने नहीं दूंगा। मैं उसकी बाते नहीं मानती हूं तो वह मुझको टॉर्चर करता है। लोगों से कहता है कि इनको बिल जमा नहीं करने देना। मुझसे अफसर ने कई बातें ऐसी बोली हैं, जो बताने लायक भी नहीं हैं। वो मुझे काम नहीं करने दे रहा है। मुझे परेशान कर रहा है। अपने ऑफिस में मुझे बुलाता और सबसे पहले मेरा फोन लेता है। इसके बाद पूछता है कि आप अकेले कहीं जाते हो। मैंने उससे पूछा इसका क्या मतलब है, तो कहता है कि मैं यह कहना चाहता हूं कि ट्रेनिंग के लिए जाती हो, मैंने कहा कि जब मेरी ट्रेनिंग होती, तब मैं जब जाती हूं। फिर वो कहता है कि अब कब जाओगी। तब मैंने कहा कि जब बुलाया जाएगा, तब जाऊंगी। तो वह कहता है कि अब जब बाहर जाना तो मुझे बताना। हम किसी दिन होटल में खाना खाने चलेंगे। मगर इस बात को किसी से कहना नहीं।'

मेरे हाथ को गलत तरह से छूते हैं- पीड़िता

महिला का आरोप है कि अफसर उसके हाथ को गलत तरह से छूता है। वो उसकी निजी जिंदगी के बारे में जानकारी लेता रहता है। मुझे अपने कैबिन में बुलाकर अंदर से बंद कर लेता है। जब मैं बाहर जाने के लिए बोलती हूं तो मुझे कुछ काम देकर रोक लेता है। मुझसे कहता है कि तुम साथ में रहती हो तो अच्छा लगता है। मैंने उसका हमेशा विरोध किया, उसके बाद भी वो मेरा पीछा नहीं छोड़ रहा है।

मैं हर तरह की जांच के लिए तैयार हूं- आरोपी

मामले में अफसर का कहना है कि उसको साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। मैंने किसी भी महिला के साथ कोई भी छेड़छाड़ नहीं की है। महिला के आरोप बेबुनियाद हैं। मैं हर तरह की जांच के लिए तैयार हूं। मामले में चीफ इंजीनियर एके मिश्रा ने कहा, 'आरोप गंभीर हैं। सभी आरोपों की जांच कराई जाएगी। यदि अफसर दोषी पाया जाता है, तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। महिला कर्मी का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।'

खबरें और भी हैं...