सिकंदराबाद में मांगों को लेकर भाकियू का धरना:प्रदूषण रोकने और कंपनियों में 40 प्रतिशत रोजगार स्थानीय युवकों को देने की मांग

सिकंदराबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिकंदराबाद में मांगों को लेकर भाकियू कार्यकर्ताओं ने एसडीएम को ज्ञापन दिया। - Dainik Bhaskar
सिकंदराबाद में मांगों को लेकर भाकियू कार्यकर्ताओं ने एसडीएम को ज्ञापन दिया।

सिकंदराबाद में भारतीय किसान यूनियन (अ) द्वारा जोखाबाद औद्योगिक क्षेत्र में धरना दिया गया। लगातार हो रहे जानलेवा प्रदूषण और कंपनियों में 40 प्रतिशत स्थानीय युवकों को रोजगार दिलाने की मांग को लेकर भाकियू कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की। एसडीएम राकेश कुमार सिंह को एक ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में चेतावनी दी गई है कि यदि उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो ट्रैफिक जाम किया जाएगा। भाकियू के जिलाध्यक्ष आबिद अली ने कहा कि एसडीएम को ज्ञापन दिये जाने के बाद भी कई कंपनियां नियमों को ताक पर रखकर दिन रात प्रदूषण फैला रहीं हैं। रात के समय तो अंधेरे में तो और भी अधिक प्रदूषण हो रहा है।

सिकंदराबाद में मांगों को लेकर भाकियू कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।
सिकंदराबाद में मांगों को लेकर भाकियू कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।

प्रदूषण से फैल रहीं बीमारियां
ये कंपनियां वायु प्रदूषण के साथ-साथ दूषित पानी को भी सीधा भूमि में भेजकर आसपास के गांवों के जल को दूषित कर चुके हैं। इस कारण गांवों में भयावह बीमारियां उत्पन्न होने लगी हैं। उन्होंने कहा कि जिन गांवों की भूमि औद्योगिक क्षेत्र में गई थी, औद्योगिक क्षेत्र की कंपनियों में 40 प्रतिशत रोजगार उन गांवों के युवकों को मुहैया कराया जाए।

एसडीएम को दिया ज्ञापन
इससे रोजगार के लिए यहां के स्थानीय लोगों को भटकना नहीं पड़ेगा। अपनी मांगों को लेकर भाकियू ने एक ज्ञापन एसडीएम राकेश कुमार सिंह को सौंपा। ज्ञापन में उन्होंने चेतावनी दी गई है कि यदि उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो भाकियू बड़ा आंदोलन करेगी। इस मौके पर जिला अध्यक्ष आबिद अली, जिला महासचिव आजाद भाटी, रविंद्र यादव, चंद्र बोस रावत, जितेंद्र भाटी, गिरिराज भाटी, सोनू भाटी, जफर आलम, जुल्फिकार सैफी, वसीम, राशिद राणा, देवेंद्र यादव, ऋषि चौधरी आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...