सिकंदराबाद सरकारी अस्पताल में होगा नवजात शिशुओं का इलाज:32 बेड की क्षमता का न्यू बोर्न बेबी केयर यूनिट का होगा निर्माण, लखनऊ टीम ने किया निरीक्षण

सिकंदराबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिकंदराबाद में अब नवजात शिशुओं को होने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए स्थानीय लोगों को निजी अस्पताल और बुलंदशहर की ओर रुख नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि जल्द ही सरकारी अस्पताल में नवजात शिशु के इलाज के लिए 32 बेड की क्षमता का न्यू बोर्न बेबी केयर यूनिट का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की लखनऊ की टीम ने निरीक्षण किया है।

शासन स्तर से मिली न्यू बोर्न बेबी केयर यूनिट को मंजूरी
अस्पताल की चिकित्सा प्रभारी डॉ. हेमंत रस्तोगी ने बताया कि नवजात शिशुओं के इलाज के लिए अस्पताल में 32 बेड की क्षमता वाली न्यू बोर्न बेबी केयर यूनिट बनाई जाएगी। शासन स्तर से यूनिट मंजूर हो चुकी है। बताया जाता है कि निर्माण कंपनी ने सरकारी अस्पताल पहुंचकर यूनिट के निर्माण के लिए भूमि चिह्नीकरण का कार्य कर लिया है।

जल्द ही यूनिट के निर्माण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। यूनिट के निर्माण होने से प्रसूता, नवजात को एक ही छत के नीचे उपचार मिलेगा।

न्यू बोर्न बेबी केयर यूनिट के निर्माण के बाद कुछ इस तरह की तस्वीर आएगी नजर।
न्यू बोर्न बेबी केयर यूनिट के निर्माण के बाद कुछ इस तरह की तस्वीर आएगी नजर।

नवजात को गंभीर रोग से बचाने में मिलेगी मदद
क्षेत्र में समय से इलाज मिलने के कारण नवजात को गंभीर रोग का शिकार होने से बचाया जा सकेगा। सीएचसी अधीक्षक हेमंत कुमार रस्तोगी ने बताया कि जल्द ही यूनिट के निर्माण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। यूनिट के निर्माण होने से प्रसूता, नवजात को एक ही छत के नीचे उपचार मिलेगा।

खबरें और भी हैं...