मुगलसराय में डीएम ने अफसरों को बताई रणनीति:सीआरएस पोर्टल पर दर्ज होगा मृत्यु और जन्म का पंजीकरण

मुगलसराय22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों की बैठक हुई। इसमें जिलाधिकारी संजीव सिंह ने जन्म-मृत्यु पंजीकरण की समीक्षा की। इस दौरान सीआरएस पोर्टल पर कम पंजीकरण पर उन्होंने नाराजगी जताई। वहीं इसमें तेजी के निर्देश दिए। लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि सीआरएस पोर्टल पर जन्म/मृत्यु का पंजीकरण अनिवार्य रूप से हो। इसकी सूचना एएनएम व आशाओं को भी दी जाए। स्वास्थ्यकर्मी गांवों से डेटा इकट्ठा करने का काम करेंगी। इसके लिए गांवों में अभियान चलाया जाए।

उन्होंने सभी ग्राम पंचायत अधिकारियों को इस काम में तेजी लाने के निर्देश दिए। जनपद में जन्म-मृत्यु पंजीकरण कार्यक्रम के बेहतर क्रियान्वयन के लिए अन्य विभागों से समन्वय स्थापित करते हुए ठोस रणनीति बनाकर बेहतर कार्य किया जाना चाहिए। उन्होंने आयुष्मान भारत योजना के लिए गोल्डेन कार्ड बनाने की प्रक्रिया के बारे में भी जानकारी ली। बताया कि 18 मई तक आयुष्मान पखवारा का आयोजन किया जा रहा है। पात्र लाभार्थियों, जिनके नाम सूची में है लेकिन लाभार्थियों के पास आयुष्मान गोल्डेन कार्ड नहीं हैं, उनको चिह्नित कर कार्ड बनवाने की व्यवस्था की गई है।

लाभार्थियों को बताया जाए कि आयुष्मान कार्ड बनवाने हेतु किसी प्रकार का कोई शुल्क नहीं देना होगा। सभी सीएससी केंद्र व गांव मे कैंप लगाकर लाभार्थियों को मुफ्त में आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाया जाएगा व अंत्योदय कार्डधारकों का भी आयुष्मान कार्ड बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि शिविर से पहले गांवों में सूचना दी जाए। इस कार्य में ग्राम प्रधानों की मदद लें। साथ ही आशा गांव/वार्ड के चिह्नित लाभार्थी परिवारों को कैंप स्थल के संबंध में जानकारी दी जाए। अभियान की उपलब्धियों की प्रतिदिन समीक्षा करते की जाए। कोशिश हो कि लाभार्थी परिवार में कम से कम एक व्यक्ति का गोल्डेन कार्ड जरूर बन जाए। बैठक में सीडीओ अजितेंद्र नारायण, सीएमओ डा. वाईके राय समेत विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...