चंदौली में दो गुटों में भिड़ंत में मारपीट:भाजपा विधायक और पूर्व सपा विधायक के समर्थकों के बीच पोस्टमार्टम हाउस पर हुई झड़प, एक दूसरे को मारे थप्पड़; पुलिस ने दोनों पक्षों को करवाया शांत

चंदौली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंदौली में भाजपा विधायक व सपा के पूर्व विधायक के समर्थकों के बीच हुई भिड़ंत। - Dainik Bhaskar
चंदौली में भाजपा विधायक व सपा के पूर्व विधायक के समर्थकों के बीच हुई भिड़ंत।

चंदौली में पोस्टमार्टम हाउस पर दो विधायकों के समर्थकों के बीच झड़प हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस और ने बीच-बचाव कर दोनों पक्षों को अलग किया और मामला शांत करवाया। एक व्यक्ति की मौत के बाद उसका पोस्टमार्टम होना था। जिसके पहले ही भारी संख्या में विधायकों के समर्थक वहां इकट्ठा हो गए। जिसके बाद किसी बात पर दोनों में झगड़ा हो गया। पुलिस और वहां मौजूद लोगों ने दोनों पक्षों को समझाबुझाकर मामला खत्म करवाया। पुलिस ने कहा कि अगर किसी पक्ष से तहरीर मिलती है तो मामले में जांच कर कार्रवाई की जाएगी ।

संदिग्ध परिस्थितियों में हुई थी ग्रामीण की मौत
मामला धीना थाना क्षेत्र के बरहन गांव का है। यहां के निवासी बृजेश सिंह की शनिवार की देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए पुलिस ने जिला अस्पताल भेजा दिया था । तभी पोस्टमार्टम हाउस पर पहले से ही बड़ी संख्या में भाजपा विधायक सुशील सिंह और पूर्व सपा विधायक मनोज सिंह डब्लू के समर्थक इकट्ठा हो गए। इस दौरान दोनों पक्षों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई और देखते ही देखते दोनों पक्ष के समर्थक आपस में भिड़ गए। इसके बाद उन लोगों ने एक दूसरे को थप्पड़ मारना शुरू कर दिया। पोस्टमार्टम हाउस पर काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। मौके पर मौजूद पुलिस ने दोनों पक्षों को अलग किया और मामले को शांत कराया ।

पूर्व विधायक ने की जांच की मांग
सैयदराजा से सपा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्ल्यू ने बताया कि हमारे क्षेत्र के बृजेश सिंह की हत्या हो गई है। परिजन भी कह रहे है की हत्या हुई है। सत्तापक्ष के विधायक जी पोस्टमार्टम हाउस पर बैठकर न जाने क्या कर रहे हैं। वहां पर जाने के बाद विवाद हो गया। मैं मांग करता हूं कि अगर वह हत्या की आशंका जताते हैं और जांच की मांग करते हैं। तो मैं पूरे परिवार के साथ लड़ाई अंतिम दम तक लड़ने का काम करूंगा।

भाजपा विधायक बोले- पूरा क्षेत्र हमारा समर्थक हैं
भाजपा विधायक सुशील सिंह ने बताया कि मैं यहां सुबह 11:00 बजे से बैठा हूं। जो कुछ यहां हुआ है वह तो कैमरे में रिकॉर्ड हुआ होगा। उससे पता चल जाएगा कि झड़प किससे हुई क्या हुआ कैसे हुआ। हम तो 11बजे से लेकर लगातार ही बैठे हुए हैं। पूरा विधानसभा हमारा समर्थक है। वो किसी से भी विवाद कर लेते है और आरोप मेरे ऊपर लगाते हैं। हमें लगता है कि अगर उनसे पूछेंगे कि किससे आप का विवाद हुआ। तो वह ज्यादा स्पष्ट आपको बता देंगे।

क्या बोली पुलिस
पुलिस ने बताया कि धीना जिला थाना क्षेत्र के बृजेश सिंह का शव पोस्टमार्टम के लिए आया था। विधायक सुशील सिंह और पूर्व विधायक मनोज सिंह व उनके लोग आए थे। उनके समर्थकों में किसी बात को लेकर झड़प हो गई थी। उसको लेकर थोड़ा तनाव था ।अब सब कुछ शांत है। मामले में अगर तहरीर आएगी तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी ।

खबरें और भी हैं...