चंदौली के पंडित दीनदयाल स्मृति स्थल पर जुटेंगे VIP:पीएम से मुलाकात के बाद म्यूजियम जाएंगे 12 राज्यों के सीएम, कल अयोध्या में रामलला के करेंगे दर्शन

चंदौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंडित दीनदयाल के एकात्म मानववाद के विचारों को जन जन तक पहुंचाएंगे 12 राज्यों के सीएम - Dainik Bhaskar
पंडित दीनदयाल के एकात्म मानववाद के विचारों को जन जन तक पहुंचाएंगे 12 राज्यों के सीएम

चंदौली और वाराणसी जिले की सीमा पर पड़ाव के तहत पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्थल संग्रहालय में मंगलवार को भाजपा शासित प्रदेशों 12 मुख्यमंत्री आएंगे। लोग यहां दीनदयाल जी के विचारों व सिद्धांतों को जानेंगे। वहीं एक ही दिन में एक दर्जन मुख्यमंत्रियों के आने का रिकार्ड भी बनेगा। स्मृति संग्रहालय में स्थापित 63 फीट ऊंची प्रतिमा के समक्ष शीश नवाएंगे और पुष्प अर्पित करेंगे। साथ ही स्मृति स्थल में इंटरप्रिटेशन वॉल पर कलाकृतियों के माध्यम से उकेरे गए पंडित जी के विचारों और सिद्धांतों को जानेंगे। एकात्म मानववाद के सिद्धांतों को आत्मसात कर विश्वभर में फैलाने का संकल्प भी लेंगे।

12 राज्यों के आएंगे मुख्यमंत्री

कार्यक्रम में असम, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, मणिपुर, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री भाग लेंगे। कार्यक्रम को लेकर प्रशासन ने सुरक्षा की दृष्टि से व्यापक इंतजाम किए गए है। संग्रहालय में सौ लोगों को बैठने की व्यवस्था की गई है। वहीं दो दिन के लिए आम जनता के लिए संग्रहालय को बंद कर दिया गया है।

आखिरी दिनों में रहा रिश्ता

आपकों बता दें कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन के आखिरी पड़ाव का रिश्ता इस इलाके में रहा है। 11 फरवरी 1968 को पीडीडीयू नगर(मुगलसराय) रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या एक के पश्चिमी छोर पर एक पोल (संख्या 673/1276) के पास पंडित जी का शव रहस्यमय परिस्थितियों में पाया गया था। केंद्र के साथ प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के बाद मुगलसराय का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय करने के साथ इस दिशा में यह स्मारक तैयार हुआ है। इस स्मारक में प्रतिमा के साथ संग्रहालय, प्रदर्शनी, कुंड का निर्माण किया गया है। दीवारों पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन सिद्धांत और आदर्श वाक्य को उकेरा गया है।

सुरक्षा के व्यापक प्रबंध होंगे

पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने बताया कि विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री मंगलवार को पड़ाव स्थित पंडित दीनदयाल स्मृति संग्रहालय में आ सकते है। ऐसे में संग्रहालय और उसके आसपास के इलाके में व्यापक सुरक्षा के प्रबंध किए गए है। वह खुद दो दिनों से सुरक्षा व्यवस्था की मानिटरिंग कर रहे है। संग्रहाल की सुरक्षा पूर्ण रुप से फुलप्रूफ होगी।

15 को रामलला के करेंगे दर्शन

करीब 12 राज्यों के मुख्यमंत्री 15 दिसंबर को रामलला के दर्शन और पूजा अर्चना करेंगे। साथ ही अयोध्या में रात्रि प्रवास भी करेंगे। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, मध्यप्रदेश, बिहार, असम, नागालैंड, मणिपुर,त्रिपुरा, गुजरात, हरियाणा, गोवा इन राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ दो बिहार और एक अरुणाचल प्रदेश के तीन डिप्टी सीएम भी भाग लेंगे। वहीं, सिक्किम, मेघालय, मिजोरम, कर्नाटक, पुदुचेरी आदि के मुख्यमंत्री का भी आगमन हो सकता है।