चंदौली में एसपी की बड़ी कार्रवाई:चार दरोगा और एक दर्जन पुलिस कर्मियों का किया तबादला, आरोपों से घिरे शमशेर सिंह अभी भी सुरक्षित

चंदौली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चंदौली जिले के सैयदराजा ‌थाना क्षेत्र के मनराजपुर में हुई निशा यादव उर्फ गुड़िया की मौत के मामले में पुलिस विभाग की जमकर किरकिरी हुई है। ऐसे में एसपी अंकुर अग्रवाल ने सैयदराजा थाने पर तैनात एक दर्जन आरक्षियों व चार दरोगाओं का दूसरे थानों में तबादला कर दिया है। लेकिन पीड़ित परिजनों के आरोपों से घिरे हेड कांस्टेबल शमशेर सिंह के प्रति नरमी को लेकर अभी भी सवाल उठ रहे हैं। घटना को लेकर मृतका के पिता कन्हैया यादव ने शमशेर सिंह को भी जिम्मेदार ठहराया था।

18 आरक्षियों का दूसरे थानों में स्थानांतरण
पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने सैयदराजा थाना में तैनात एसआई विजयनारायण सिंह को सदर कोतवाली, सुनील कुमार सिंह को अलीनगर थाना, सचिन कुमार पांडेय का अलीनगर व अभिषेक सिंह का सदर कोतवाली में स्थानांतरण किया है। जबकि पुलिस लाइन में तैनात एसआई जनक सिंह, धीना से रामनयन यादव व अपराध शाखा में तैनात मिथिलेश तिवारी को सैयदराजा भेजा है। इसके अलावा सैयदराजा में तैनात पुलिस कर्मी राजकुमार गिरी को सदर कोतवाली, बृजकिशोर को अलीनगर, प्रीतम बिंद व राहुल सिंह का सदर कोतवाली, संदीप कुमार अत्री का अलीनगर, अर्चना यादव, विभा द्विवेदी का सदर कोतवाली, कुलदीप सिंह का अलीनगर, शिवम गुप्ता सदर कोतवाली, कल्याण कन्नौजिया अमित चतुर्वेदी व गौरव सिंह का मुगलसराय कोतवाली भेजा है। इसके अलावा अन्य थानों व पुलिस लाइन में तैनात 18 आरक्षियों का दूसरे थानों में स्थानांतरण किया गया है।

पैदल मार्च करेंगे विभिन्न दल
मनराजपुर प्रकरण की जांच और दोषियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर जिला मुख्यालय पर भीम आर्मी और विभिन्न दलों के द्वारा भुख हड़ताल तथा अनिश्चितकालीन धरना दिया जा रहा है। वहीं सोमवार को भाकपा(माले) के नेतृत्व में विभिन्न दलों के द्वारा संयुक्त रुप से जिला मुख्यालय पर पैदल मार्च निकाला जाएगा।

खबरें और भी हैं...