चंदौली में स्वास्थ्य विभाग को मिलेगी दस नई एंबुलेंस:बेहतर होगी सेवाएं, मरीजों के उपचार में नहीं होगी दिक्कत

चंदौली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चंदौली जिले के मरीजों और गर्भवती महिलाओं से लिए एंबुलेंस सेवा जीवनदायिनी बन गई है। अब इस सेवा का जल्द विस्तार होने जा रहा है। उम्मीद है कि इसी महिने में इस नई एंबुलेस स्वास्थ्य विभाग को शासन से मिल जाएंगी। जिससे स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने में अफसरों को काफी सहायता मिल जाएगी। वहीं मरीजों और गंर्भवती महिलाओं को इसका ज्यादा फायदा मिलेगा।

वाहनों में तकनीकि समस्याएं

जिले में वर्ष 2014 में स्वास्थ्य विभाग को एंबुलेस संचालित करने के लिए शासन से अनुमति के साथ वाहन उपलब्ध कराया गया। लेकिन सभी वाहन लगभग ढ़ाई लाख किमी के ऊपर चल चुकी हैं। ऐसे में आएदिन वाहनों में तकनीकि समस्याएं आना लाजमी है। वहीं बीच रास्ते में एंबुलेंस के खराब होने से मरीजों के साथ चालकों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। परन्तु अब नई अत्याधुनिक तकनीक से लैस एंबुलेंस मिलने के बाद स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने में काफी सहूलियत मिलेगी।

सरकारी अस्पतालों को आवंटित होगी एंबुलेंस

दस एंबुलेंस में प्राथमिकता के तौर पर डिस्टिक कंबाइंड हास्पिटल चकिया को दो एंबुलेंस दी जाएगी। वहीं नौगढ़ सीएचसी, साहिबगंज पीएचसी, नियामताबाद पीएचसी, जिला अस्पताल, सकलडीहा सीएचसी, चहनिया पीएचसी, धानापुर सीएचसी व बरहनी पीएचसी में एक-एक एंबुलेंस तैनात रहेगी।

सुविधाएं बढ़ने से दूर होगी दुश्वारी

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. वाईके राय ने बताया कि नए एंबुलेंस आ जाने से स्वास्थ्य सेवा को रफ्तार मिलेगी तथा जरूरतमंदों तक एंबुलेंस सुविधा कम से कम समय में उपलब्ध हो जाएगी। जनपद में स्वास्थ्य सुविधा को बेहतर बनाने तथा लोगों की सहूलियत के लिए निरंतर प्रयास किया जा रहा है, ताकि जिला अस्पताल के अलावा पीएचसी व सीएचसी में आने वाले मरीजों को असुविधा नहीं हो। साथ ही शासन की मंशा के अनुरुप लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं मिले।

खबरें और भी हैं...