मानिकपुर में जलशक्ति मंत्री के दौरे का असर:बरदहा बांध से जल्द मिलेगा पाठा क्षेत्र के किसानों को पानी, अधीक्षण अभियंता ने किया निरीक्षण

मानिकपुर, चित्रकूट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जलशक्ति मंन्त्री स्वतंत्रदेव सिंह हाल ही में चित्रकूट के मानिकपुर दौरे पर आए हुए थे, जहां उन्होंने बरदहा बांध का निरीक्षण किया था। पानी स्टोरेज क्षमता बढ़ाने के साथ ही लीकेज रोकने के निर्देश दिये थे।

मन्त्री के निरीक्षण के बाद शनिवार को सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता श्याम चौबे द्वारा मानिकपुर के बरदहा बांध के गेटो का निरीक्षण किया गया। कहा गया कि बरदाहा मुख्य नहर जो 11 किमी पूर्ण निर्मित नहीं है, इस नहर का जल्द सर्वे कराकर जल्द किसानों को पानी मुहैया कराया जायेगा। बरदहा बांध के अतिरिक्त बराहा माफी टैंक, छेरिहा बंधी का भी किया निरीक्षण।

बरदहा बांध का निर्माण वर्ष 1980 में हुआ था। बांध की स्टोरेज क्षमता 7.46 मिलियन घन मीटर है। कुल 1755 हेक्टेयर सींच प्रस्तावित है, जिससे लगभग दसों गांव के किसानों को पानी मुहैया कराया जाएगा। जिससे 35 क्यूसेक की मुख्य नहर जो 11 किमी की है, जिससे बारामाफी टैंक तथा जरेरा टैंक भी बरदहा के बचे शेष पानी से भरा जाएगा। बरदहा बांध से परसीन माइनर जो 4 .50 किमी तथा करो माइनर 1. 60 किमी सहित कुल 17 किमी नहर से सिंचाई सुविधा उपलब्ध होगी।

बरदहा मुख्य नहर की शेष खुदाई भी जल्द से जल्द कराई जाएगी। निरीक्षण के दौरान अधिशाषी अभियंता आशुतोष कुमार , सहायक अभियंता गुरु प्रसाद, जाय प्रकाश ,नरेंद्र कुमार जूनियर इंजीनियर सही विभाग एवम ब्लॉक के तकनीकी सहायक व रोजगार सेवक भी उपस्थित रहे।