चित्रकूट में धरने पर बैठे छात्र:नवोदय विद्यालय प्रबंधन पर गंदा खाना देने का लगाया आरोप, कहा- स्वास्थ्य व्यवस्था भी नहीं ठीक

चित्रकूट6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चित्रकूट में धरने पर बैठे छात्र। - Dainik Bhaskar
चित्रकूट में धरने पर बैठे छात्र।

चित्रकूट जिले में सोमवार को जवाहर नवोदय विद्यालय के सैकड़ों छात्र विद्यालय परिसर के गेट पर धरने पर बैठे गए। छात्रों ने विद्यालय प्रबंधन पर गंदा खाना देने और चिकित्सा व्यवस्था सही न होने का आरोप लगाया। सैकड़ों छात्र जवाहर नवोदय विद्यालय के गेट के बाहर धरने पर बैठे रहे।

जानकारी होने पर पहुंचे उपजिलाधिकारी

जब इस बात की जानकारी तहसील के उच्च अधिकारियों को हुई तब उपजिलाधिकारी, तहसीलदार मौके पर पहुंचे और धरने पर बैठे छात्रों से मामले की जानकारी ली। वहीं छात्राओं के बयान छात्रों से कुछ अलग ही रहे। छात्रों ने विद्यालय प्रबंध द्वारा छात्राओं को बहला-फुसलाकर अपने पक्ष में बयान देने का आरोप लगाया। हालांकि उपजिलाधिकारी ने प्रधानाचार्य को सारी व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के सख्त निर्देश दिया।

बहकावे में ऐसा कार्य कर रहे बच्चे

यह जवाहर नवोदय विद्यालय मानिकपुर में स्थित है। उधर जवाहर नवोदय विद्यालय के प्रधानाचार्य आलोक त्रिपाठी का कहना है कि बच्चे कुछ लोगों के बहकावे में ऐसा कार्य कर रहे हैं। यहां की व्यवस्थाएं दुरुस्त हैं। खाना, स्वास्थ्य व्यवस्था का हर हफ्ते स्वयं जाकर निरीक्षण उनके द्वारा किया जाता है।