चित्रकूट DM ने खाद को लेकर की बैठक:कहा- निर्धारित मूल्य से अधिक पर न बेचे निजी दुकानदार, शिकायत के लिए जारी किया हेल्पलाइन नंबर

चित्रकूट7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चित्रकूट DM ने खाद को लेकर की बैठक। - Dainik Bhaskar
चित्रकूट DM ने खाद को लेकर की बैठक।

चित्रकूट जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने गुरुवार को अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि इस समय रबी फसलों की बुवाई तेजी से हो रही है। सहकारी संस्थाओं के अलावा प्राइवेट पंजीकृत दुकानों पर भी डीएपी खाद उपलब्ध है। किसान भाई यहां से निर्धारित मूल्य पर खरीद कर रबी फसलों की बुवाई के लिए प्रयोग कर सकते हैं। किसान भाइयों से अपील है कि डीएपी के विकल्प के रूप में उपलब्धता के अनुसार एनपीके अथवा सिंगल सुपर फास्फेट उर्वरक का भी उपयोग किया जा सकता है।

जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने कहा कि समस्त उर्वरक विक्रेताओं को निर्देशित कर दिया गया है कि सभी प्रकार के उर्वरक की बिक्री पीओएस मशीन से ही करेंगे व किसान से उर्वरक के निर्धारित मूल्य ही लेंगे। उर्वरक की बिक्री किसान की भूमि जोत एवं बोई जाने वाली फसल के अनुपात में ही की जाए। गेहूं की फसल के लिए प्रति हेक्टयर 2 बोरी डीएपी, 3 बोरी एनपीके अथवा 6 बोरी सिंगल सुपर फास्फेट का उपयोग किया जाए।

इन निजी उर्वरक बिक्री केन्द्रों पर उपलब्ध है डीएपी

आनंदी खाद बीज भंडार मऊ 1080 बोरी, साईं खाद एवं बीज भंडार राजापुर 560 बोरी, अग्रहरि ट्रेडर्स राजापुर 540 बोरी, जय मां संतोषी बीज भंडार कर्वी 340 बोरी, नर्मदा खाद एवं बीज भंडार कर्वी 280 बोरी, बुंदेलखंड सीड्स सीतापुर 260 बोरी, ईफको ई बाजार बराछी 240 बोरी, मे. गीता देवी मऊ 200 बोरी, अलका बीज भंडार शंकर बाजार कर्वी 180 बोरी, पांडे बंधु मऊ 170 बोरी, साईं खाद एवं बीज भंडार राजापुर 170 बोरी, चंद्रसेन सिंह मऊ 150 बोरी, रामबालक खाद एवं बीज भंडार मऊ 140 बोरी, अमन एग्रो सेल्स मऊ 135 बोरी, जयचंद पांडे लालता रोड 120 बोरी, राज करण पटेल शिवरामपुर 96 बोरी, राम विनोद त्रिपाठी सरैया 140 बोरी।

इन नंबरों पर कर सकते हैं शिकायत

जिलाधिकारी ने बताया कि इन दुकानों से निर्धारित मूल्य पर डीएपी खरीद कर प्रयोग कर सकते हैं। यदि किसी उर्वरक विक्रेता के द्वारा निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर किसी भी उर्वरक की बिक्री की जाती है अथवा किसान भाई को उर्वरक खरीद की रसीद नहीं दी जाती है तो संबंधित उर्वरक विक्रेता के विरुद्ध उर्वरक नियंत्रण आदेश, 1985 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम, 1955 के सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत कठोर कार्रवाई की जाएगी। कन्ट्रोल रूम जिसमें कोई भी कृषक प्रातः 9 बजे से सायं 6 बजे तक निम्नलिखित मोबाइल नंबर 7839882701 अथवा 6397837376 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं, जिसका निस्तारण तत्काल कराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...