चित्रकूट में कर्मचारी को धमकाने का ऑडियो आया सामने:खुद को बताया सीएम के सुरक्षा अधिकारी का करीबी, कहा- मेरी गाड़ियां रोकोगे तो यहां काम नहीं कर पाओगे

चित्रकूट19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी ने कहा- मामले की करवा रहे हैं जांच - Dainik Bhaskar
एसपी ने कहा- मामले की करवा रहे हैं जांच

चित्रकूट में सोशल मीडिया पर शनिवार को वायरल एक ऑडियो सामने आया है। जिसमें एक व्यक्ति जिसका नाम रमेश चंद्र त्रिपाठी है। वो खुद सीएम के सुरक्षा अधिकारी का भतीजा बताते हुए एक ठेकेदार के कर्मचारी को धमका रहा है। वो एक ट्रक संचालक है। जिसके ड्राइवर से ठेकेदार के कर्मचारी ने तहबाजारी का पैसा मांगा था। जिससे आरोपी युवक भड़क गया। उसने धमकाते हुए कहा कि हम यहां के रहने वाले हैं और आप बाहर से आएं हैं। हमसे बनाकर रखिए नहीं तो आपके लिए समस्या हो जाएगी। इस मामले के सामने आने पर पुलिस ने इस पर संज्ञान लिया है और ऑडियो की जांच की जा रही है।

चालकों से कहा- को सामने आए तो 2-4 को रौंद देना

उसने कहा कि उसकी तीन गाड़ियां चलती हैं। जिसे कोई रोक नहीं सकता है। यहां के अधिकारी उसे अच्छी तरह से जानते है। आपको बता दें कि ट्रकों से ये वसूली करने का ठेका जिला पंचायत द्वारा दिया जाता है। उसने कहा कि जिला पंचायत अध्यक्ष को हमने ही बनवाया है। कर्मचारी ने जब कहा कि वह ठेकेदार से बात कराएंगे तो उस शख्स ने स्पष्ट तौर पर बोला कि वह किसी से बात नहीं करेगा। उसने अपने चालकों से कह दिया है कि अगर कोई गाड़ी रोके तो सीधे चढ़ा देना। दो-चार अगर मर भी गए तो उनका कुछ होने वाला नहीं है।

सरकार का नाम लेकर धमकाने वाले करते हैं सरकार को बदनाम

वायरल ऑडियो में खुद को पावरफुल भाजपाई बताते हुए कर्मचारी को धमकाया कि अगर उससे पंगा लिया तो ठेकेदारी नहीं चल पाएगी। एसपी अतुल शर्मा का कहना है कि वायरल ऑडियो संज्ञान में आया है। इसकी जांच एएसपी शैलेन्द्र कुमार राय से कराई जा रही है। इस तरह धौंस-धमकी देकर सरकार को बदनाम करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...