देवरिया में शहीद के स्मृति स्थल का निरीक्षण:शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी स्मृति स्थल पर पहुंचे CDO, निर्माण कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

देवरिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देवरिया में शहीद के स्मृति स्थल का निरीक्षण। - Dainik Bhaskar
देवरिया में शहीद के स्मृति स्थल का निरीक्षण।

देश की जंग-ए आजादी में अपने प्राणों की आहूति देने वाले अमर शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी का जन्म देवरिया के नौतन हथियागढ़ गांव में 1 अप्रैल 1929 को हुआ था। उनके अंदर कम उम्र में ही देश को आजाद कराने का जज्बा कूट-कूटकर भरा था। 14 वर्ष की छोटी सी आयु में ही भारत माता को गुलामी की बेड़ियों से आजाद कराने के लिए उन्होंने अपने प्राणों को न्यौछावर कर दिया था। उन्होंने देवरिया कचहरी में यूनियन जैक उतारकर भारतीय तिरंगा फहराया था, जिसके बाद ब्रिटिश हुकूमत ने उन्हें 14 अगस्त 1942 को गोलियों से भून दिया था।

निर्माण कार्यों का किया निरीक्षण

शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी के सम्मान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी स्मृति स्थल, विकास संग्रहालय के निर्माण की घोषणा की है, जो मुख्यमंत्री की अति महत्वाकांक्षी और सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। इस महत्वपूर्ण कार्य परियोजना को समयबद्ध ढंग से पूरा कराए जाने को लेकर मुख्य विकास अधिकारी रवीन्द्र कुमार ने मंगलवार को कार्य स्थल एवं चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया।

इस दौरान उन्होंने कार्य की धीमी गति पर कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने कार्यदायी संस्था यूपी प्रोजेक्ट कार्पोरेशन लिमिटेड के अवर अभियन्ता वशीम अहमद को निर्देश दिया कि सभी निर्माण कार्यों के लिए अलग-अलग श्रमिकों की टीम लगाई जाए। इसके साथ ही कम से कम जो श्रमिक लगे हैं। उससे पांच गुना श्रमिकों की संख्या भी बढ़ाई जाए।

परियोजना की नियमित समीक्षा की जाती है

सीडीओ ने निर्देश दिया है कि इस निर्माण कार्य को किसी भी दशा में 25 दिसंबर तक अनिर्वाय रूप से पूर्ण करना सुनिश्चित करें। इस कार्य परियोजना की नियमित समीक्षा उच्च स्तर पर की जाती है, इसलिए इसमें निर्धारित समय सीमा व गुणवत्ता मानकों का पूरा ध्यान रखते हुए कार्यों को पूर्ण कराएं। उन्होंने सभी कार्य बिन्दुओं पर चल रहे निर्माण कार्यों को जायजा लिया।

इस परियोजना के पूर्ण होने से जनपद सहित आम जनमानस में देश प्रेम की भावना जागृत होगी और देश की एकता एवं अखंडता के लिए कार्य करने के लिए प्रेरित होंगे। निरीक्षण के दौरान जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, कार्यदायी संस्था के अभियन्ता और संबंधित कर्मचारी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...