पिता को डूबता देख बेटियों ने लगा दी छलांग:देवरिया में नदी में भैंस नहलाते समय पिता-बेटी की डूबकर मौत

देवरिया15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पिता पुत्री की डूबने से मौत के बाद घटना स्थल पर ग्रामीणों की भीड़ - Dainik Bhaskar
पिता पुत्री की डूबने से मौत के बाद घटना स्थल पर ग्रामीणों की भीड़

देवरिया में घर के पास स्थित नदी में भैंस नहलाते समय डूबने से पिता- पुत्री की मौत हो गई। जबकि बचाने गई एक पुत्री को ग्रामीणों ने डूबने से बचा लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

जानिए पूरा मामला

खामपार थाना क्षेत्र के परसिया छितनी सिंह की रहने वाली द्वारिका कुशवाहा (60) घोठा स्याही नदी के किनारे है। रोज की तरह आज वह अपनी भैंस को स्याही नदी में नहला रहे थे। इसी दौरान भैंस नदी के बीच में चली गई। गहराई का अनुमान किए बिना द्वारिका भैंस को पकड़ने के लिए बीच नदी में चले गए और डूबने लगे।

पिता की चीख सुनकर बेटियों ने लगा दी छलांग

द्वारिका की चीख सुनकर उनकी दोनों बेटियां शादी शुदा अमलावती (30) और कलावती (24) नदी में छलांग लगा दी। पिता को निकालने के प्रयास में वह दोनों भी पिता के साथ डूबने लगीं।

ग्रामीणों ने तीनों को निकाला

शोर सुनकर पहुंचे ग्रामीणों ने तीनों को निकाला और प्राथमिक उपचार के लिए प्राइवेट क्लीनिक में ले गए। डाक्टर ने द्वारिका और अमलावती को मृत घोषित कर दिया। वहीं, छोटी बेटी कलावती खतरे से बाहर है।

थानाध्यक्ष खामपार दीपक कुमार ने बताया कि पिता पुत्री के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा जा रहा है। छोटी बेटी कलावती सुरक्षित है।