देवरिया में कर्ज से परेशान दुकानदार नदी में कूदा:बेटी की शादी से कर्ज में डूबा था दुकानदार, जब नहीं लौटा पाया पैसे तो नदी में लगा दी छलांग

देवरिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देवरिया में कर्ज से परेशान दुकानदार नदी में कूदा। - Dainik Bhaskar
देवरिया में कर्ज से परेशान दुकानदार नदी में कूदा।

देवरिया जिले के रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र में कर्ज के बोझ से परेशान एक दुकानदार ने सोमवार सुबह गोर्रा नदी में छलांग लगा दिया। राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस गोताखोरों की मदद से दुकानदार की तलाश करा रही है।

बेटी की शादी के लिए लिया था कर्ज

बता दें कि रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के लक्ष्मीपुर गांव के रहने वाले रंजन विश्वकर्मा (50) पुत्र बृजलाल विश्वकर्मा की रामलक्षन चौराहे पर बाइक रिपेयरिंग की दुकान है। उसके परिवार का भरण पोषण दुकान से ही चलता है। रंजन ने कुछ साल पहले बेटी की शादी लिए कुछ लोगों से कर्ज लिया था। कोरोना काल में दुकान नहीं चल रही थी, जिससे वह लोगों के पैसे नहीं दे पा रहा था। कर्ज देने वाले लोग उससे तगादा कर रहे थे।

तलाश में जुटे गोताखोर

रंजन मकान का अपना हिस्सा बेचना चाह रहा था, लेकिन परिवार में सहमति नहीं बन पा रही थी। इन्हीं सब को लेकर वह पिछले कुछ दिनों से परेशान था। सोमवार सुबह रंजन बाइक से बोहाबार गांव के पास गोर्रा नदी पर बने पुल पर पहुंचा, जहां बाइक खड़ी कर मोबाइल, चप्पल निकाल कर रख दिया। इसके बाद वह नदी में कूद गया। आसपास के लोगों ने रंजन को नदी में खोजने का प्रयास किया, लेकिन उसका पता नहीं चला। ग्रामीणों की सूचना पर गोरखपुर की झंगहा पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से रंजन की तलाश शुरू कराई।

खबरें और भी हैं...