जर्जर नहर का पुल, टूटी रेलिंग, हादसे का डर:देवरिया में गढ़रामपुर-त्रिमुहानी मार्ग पर बना है पुल, जर्जर होने के चलते बस का संचालन भी हुआ ठप

देवरिया10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

देवरिया जिले के तरकुलवा विकासखंड के गढ़रामपुर-त्रिमुहानी घाट मार्ग पर महुआपाटन गांव के पश्चिम नहर पर बना पुल वर्षों से जर्जर है। पुल की रेलिंग टूट गई है। सड़क से सैकड़ों की संख्या में टेंपो, ट्रैक्टर-ट्रॉली, ट्रक आदि चार पहिया वाहनों का आवागमन रहता है। जिससे हर समय हादसे का डर बना रहता है।

बता दें, तरकुलवा विकासखंड में देवरिया-कसया मार्ग पर गढ़रामपुर नहर पुलिया से मार्कण्डेय, पहाड़पुर, बसंतपुर, देउरवा, पिपरहिया, महुआरी, महुआपाटन के रास्ते मठिया कुटी, चिउटहां, सिसवा, नरायनपुर आदि गांव संपर्क मार्ग से जुड़ते हैं। सीधे कुशीनगर जिले को जोड़ने वाले गढ़रामपुर-त्रिमुहानी नदी घाट प्रधानमंत्री ग्राम सड़क पर महुआपाटन बाजार के पश्चिम सेमरी रजवाहा पर बने नहर पुल की हालत जर्जर है। उसकी रेलिंग काफी दिनों से टूटी है। स्कूली बच्चे, राहगीरों से लगायत दोनों जिलों के अधिकतर लोग इस शॉर्ट कट मार्ग से अपनी मंजिल को तय करना पसंद करते हैं।

बस का संचालन हुआ बंद
कुछ साल पूर्व देवरिया से जौरा बाजार तक इसी सड़क पर एक रोडवेज की बस चलती थी। जिससे लोगों को यात्रा में काफी सुगमता होती थी। मगर, इस पुल के जर्जर होने से बस का संचालन भी बंद हो गया है। अक्सर लोग इस पुल पर चोटिल होते हैं। कई बार यहां बड़ी दुर्घटनाएं होते-होते बची हैं। इसके बाद भी जिम्मेदारों की नजर इस जर्जर नहर पुल पर नही पड़ती। जिसे लेकर स्थानीय लोगों में गहरा आक्रोश है।

ग्रामीणों ने की पुल निर्माण की मांग
क्षेत्रीय लोगों ग्राम प्रधान हीरा लाल गुप्ता, सत्येन्द्र गुप्ता, डा.प्रमोद गुप्ता, लालजी यादव, सरफराज अहमद, आशिक अली, बैरिस्टर यादव, सुधीर पाण्डेय, अमन राय, ब्रह्मदेव गुप्ता, मनोज यादव, अशोक यादव, राकेश प्रसाद, चंद्रबली खरवार, संदीप सिंह, अभय तिवारी, नारद शर्मा, अंगद शर्मा आदि ने पुल निर्माण की मांग की है।