देवरिया में सर्राफा दुकान से 32 लाख की लूट:दुकान बंद करने जा रहा था कारोबारी, बाइक से पहुंचे बदमाशों ने असलहा सटाकर लूट लिए सोने-चांदी के जेवरात

देवरिया4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देवरिया में बुधवार रात ज्वेलर्स की दुकान पर बदमाशों ने लूटपाट की। दुकान मालिक के असलहा सटाकर बदमाशों ने करीब 32 लाख के जेवरात लूट लिए और कोहरे का फायदा उठा भाग गए। बदमाशों के जाने के बाद पीड़ित दुकान मालिक ने घटना की जानकारी कोतवाली पुलिस को दी। सूचना पर सीओ पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला। वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।

देवरिया-रुद्रपुर मार्ग पर है दुकान

बता दें कि कोतवाली क्षेत्र के मलकौली गांव के रहने वाले सूरज वर्मा ने देवरिया-रुद्रपुर मार्ग पर लक्ष्मी नारायण मंदिर के पास ज्वेलर्स की दुकान की है। सूरज की दुकान चौराहे पर काफी अच्छी चलती है। बुधवार रात में दुकान मालिक सूरज और कर्मचारी दुकान बढ़ाने की तैयारी कर रहे थे। शीतलहर और कोहरे से चौराहे पर सन्नाटा पसरा हुआ था।

इसी बीच बाइक सवार दो बदमाश दुकान पर पहुंचे। दोनों मास्क लगाकर मफलर से मुंह बांधे हुए थे। एक बदमाश बाइक के पास रुक गया और दूसरा दुकान के अंदर घुस गया। उसने दुकान मालिक सूरज के असलहा सटा कर्मचारियों से आभूषण को बोरे में रखने को कहा। असलहे की जोर पर बदमाश आभूषण को बोरे में रखवाकर बाइक से फरार हो गए। इसके बाद सूरज ने दुकान से बाहर निकल कर शोर मचाया तो आसपास के लोग मौके पर पहुंच गए।

बदमाशों की तलाश में जुटी पुलिस

पीड़ित ने घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी। सूचना मिलते ही कोतवाल अनुज कुमार सिंह पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। लूट की सूचना पर क्षेत्राधिकारी सदर श्रीयश त्रिपाठी भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने आसपास के लोगों से घटना के बारे में जानकारी ली। पुलिस ने दुकानदार और दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी से अलग-अलग पूछताछ की। पुलिस लुटेरों की तलाश में लगी है। सूरज वर्मा ने बताया कि बदमाश 600 ग्राम सोने के जेवरात और 12 किलो चांदी के जेवरात लूट ले गए हैं। जिसकी कीमत करीब 32 लाख है। बदमाश कुछ ग्राहकों के दुकान पर रखे गिरवी जेवरात भी लूट ले गए हैं।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को लिया कब्जे में

आभूषण की दुकान में लूट की सूचना पर पहुंचे सीओ सदर ने दुकान और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगलवाया। सीसीटीवी कैमरा में पूरी वारदात कैद हो गई है। पुलिस टीम ने सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को अपने कब्जे में ले लिया है। इससे पुलिस को लूट की घटना में अहम सुराग मिला है।