फसल के मुआवजे को लेकर भाकियू स्वराज उतरा सड़क पर:SDM को सौंपा ज्ञापन; कहा- बारिश से सैकड़ों बीघा फसल बर्बाद, सुनवाई न होने पर करेंगे आंदोलन

अलीगंज (एटा)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अलीगंज में बरसात होने के कारण किसानों की कई बीघा में खड़ी फसल बर्बाद हो गई है। फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए भाकियू स्वराज के बैनर तले किसानों ने राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। वहीं, बीज विक्रेताओं ने किसानों को बेचे गए बीज से फसल तैयार में दाने न पड़ने पर बीज विक्रेताओं के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है।

भाकियू स्वराज के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुलदीप पाण्डेय के निर्देश पर किसानों ने एसडीएम मानवेन्द्र सिंह को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने मांग की है कि अत्यधिक बरसात होने के कारण किसानों की तैयार फसल धान, मक्का, बाजरा, टमाटर, गोभी आदि फसलें पूरी तरह से नष्ट हो गई हैं। इस कारण किसान पर भुखमरी का संकट उत्पन्न हो गया है। उन्होंने मांग की है कि वर्षा से किसानों की नष्ट हुई फसलों का आंकलन कराकर किसानों को अतिशीघ्र राहत कोष से मुआवजा दिया जाए।

बीज डालने पर दाना नहीं पड़ने से नाराज किसान
यूनियन के प्रदेश संगठन मंत्री सुनील पाराशर ने कहा कि अलीगंज में बीज विक्रेताओं द्वारा गलत बीज देने से किसानों के भुट्टे की फसल में दाना नहीं पड़ा है। जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने बताया कि विक्रेता कृष्णा बीज भण्डार, त्रिवेणी बीज भण्डार, गायत्री बीज भण्डार, तथागत बीज भण्डार की कई बार शिकायतें की गईं। लेकिन कोई भी कार्रवाई नहीं की। कृषि विभाग के एडीओ ने भी जांच की।जिसमें 70 से 80 प्रतिशत मक्का की फसल में नुकसान पाया गया। लेकिन अभी तक इन बीज विक्रेताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई और न ही मुआवजा मिला।

किसानों ने वृहद आंदोलन करने की दी चेतावनी
उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर किसानों को मुआवजा नहीं मिला तो वह आन्दोलन करने को विवश होंगे। वहीं बीज विक्रेता एसोसियेशन के अध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि मक्का की फसल में दाना न पड़ने की शिकायत को कम्पनी के अधिकारियों को अवगत कराया गया है। बीज कम्पनी किसानों को बीज उपलब्ध कराएगी। ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने वालों में ध्रुव मिश्रा, हरिनंदन दीक्षित, सिद्वपाल, हरिनाथ सिंह, अजीत सिंह हवलदार, मोहर सिंह, सतेन्द्र सिंह, अजन्ट सिंह, अरविन्द आदि किसान प्रमुख हैं।

खबरें और भी हैं...