अलीगंज में सपा नेता का भतीजा गिरफ्तार:लूट-डकैती को लेकर कई मुकदमे हैं दर्ज; साल भर पहले महिला से लूटे थे सात हजार रुपये

अलीगंज (एटा)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अलीगंज में पूर्व विधायक रामेश्वर यादव व पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव के भतीजे विनोद यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मलावन थाना के सामने जीटी रोड से अभियुक्त की गिरफ्तारी हुई है। उस पर लूट-डकैती समेत कई संगीन धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस कई दिनों से आरोपी की तलाश कर रही थी।

सपा नेता के भतीजे की गिरफ्तारी के बाद अलीगंज कोतवाली को छावनी में तब्दील कर दिया गया। अलीगंज कोतवाली के आने-जाने वाले रास्तों पर पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बाद समाजवादी पार्टी के नेता के भतीजे को रात भर कोतवाली अलीगंज में रखा गया। सुबह होते ही आरोपी विनोद यादव को न्यायिक अभिरक्षा में जिला अदालत भेजा गया है।

एक साल पहले दर्ज हुआ था मुकदमा
सपा नेता के परिवार की परेशानी इन दिनों कम होने का नाम नहीं ले रही है। सपा नेता के भतीजे की कोतवाली अलीगंज में दर्ज एक मुकदमे के तहत गिरफ्तारी की गई है। करीब एक वर्ष पहले पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव के गांव की ही निवासी सजला देवी ने अलीगंज कोतवाली में शिकायत की थी।

जिसमें पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव, पूर्व ब्लॉक प्रमुख रामनाथ यादव, विनोद यादव जिला पंचायत सदस्य, विक्रांत यादव जिला पंचायत सदस्य, पुष्पेंद्र यादव, प्रमोद शामिल थे। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। बताया था कि पैसे लेकर अपने घर जा रही थी। रास्ते में इन लोगों ने घेरकर सात हजार रुपये लूटे थे।

सपा नेताओं की कई करोड़ की संपत्ति हो चुकी है जब्त
बताया जा रहा है कि सपा नेता पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष सहित उनके पुत्र व भतीजे पर मलावन थाने में जमीन कब्जाने के 4 मामले दर्ज हैं। रविवार को पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष के परिजन अपना पक्ष रखने थाने पहुंचे। जहां उनके बयान दर्ज किए गए। हालांकि पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव गैंगस्टर एक्ट के एक मामले में एटा जेल में बंद हैं। वहीं उनके भाई पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव अभी फरार चल रहे हैं। जिला अधिकारी एटा के निर्देश पर इन सपा नेताओं की अब तक करोड़ों रुपये की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। पुलिस का कहना है कि आगे की कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...