हाईस्कूल की छात्रा के डूबने का VIDEO:एटा में मां ने फोन छीना तो नदी में कूदी, बचाने की जगह लोग वीडियो बनाते रहे

एटा2 महीने पहले

एटा में एक नाबालिग छात्रा काली नदी में डूबती रही और लोग खड़े होकर तमाशा देखते रहे। पुल पर खड़े लोग छात्रा का डूबते हुए वीडियो बनाते रहे। करीब 8 मिनट तक वह मौत से लड़ती रही।

इस बीच पुलिस भी मौके पर पहुंची, लेकिन कोई भी छात्रा की मदद के लिए आगे नहीं आया। हाथ-पैर मारते मारते छात्रा पानी में डूब गई। घटना बागवाला थाना क्षेत्र के करथला रोड पर बने पुल की सुबह 11 बजे की है। अब छात्रा को ढूंढने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

छात्रा ने कई बार पास के खंभे तक पहुंचने की कोशिश की, लेकिन वह बहाव में बह गई।
छात्रा ने कई बार पास के खंभे तक पहुंचने की कोशिश की, लेकिन वह बहाव में बह गई।

गांव से टैंपो में बैठकर पुल पर आई थी छात्रा
लभेंटा गांव की रहने वाली कल्पना की उम्र 17 साल है। वह हाईस्कूल में पढ़ता है। बताया जा रहा है कि शनिवार को मोबाइल फोन को लेकर उसका अपनी मां से झगड़ा हो गया था। इससे वह काफी नाराज हो गई।

स्थानीय लोगों का कहना है कि लड़की उनके साथ गांव से टैंपो में बैठकर आई थी। उसने टैंपो वाले को भाड़ा दिया। उसके बाद पुल के पास खड़ी हो गई। करीब 5 मिनट तक वह नदी को ओर देखती रही। उसके बाद रेलिंग के ऊपर से काली नदी कूद गई। उन्होंने बताया कि हम लोगों ने ऊपर से देखा, तो लड़की डूब रही थी।

छात्रा बचने के लिए हाथ-पैर चलाती रही, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की।
छात्रा बचने के लिए हाथ-पैर चलाती रही, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की।

पुल पर खड़े लोग बचने-डूबने की बात कर रहे
सामने आए वीडियो में देखा और सुना जा सकता है कि कैसे लोग लड़की के डूबने और बचने के बारे में बातें कर रहे हैं। मगर, कोई भी उसको बचाने के लिए आगे नहीं रहा है। इतना ही नहीं, पास में खड़े कुछ लोग हंस भी रहे हैं। यह भी बताया जा रहा है कि पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। मगर, उसकी तरफ से भी लड़की को बचाने के कोई खास प्रयास नहीं किए गए। लोगों के देखते-देखते ही लड़की काली नदी में समा गई।

पुलिस की टीम मौके पर लड़की की तलाश करने में जुटी हुई है।
पुलिस की टीम मौके पर लड़की की तलाश करने में जुटी हुई है।

मां ने बेटी का फोन छीन लिया था, डांटा भी था
एसओ विनोद कुमार सिंह ने बताया, ''नाबालिग छात्रा शनिवार सुबह किसी से फोन पर बात कर रही थी। उसे ऐसा करते उसकी मां ने उसको पकड़ लिया। मां ने उसको डांटा और उसका फोन छीन लिया। छात्रा ने मां से कई बार फोन मांगा, लेकिन उन्होंने फोन नहीं दिया। इसी बात से नाराज होकर छात्रा घर से निकल गई। फिर उसने ऐसा कदम उठा लिया।''

उन्होंने बताया, ''परिवार के लोग मौके पर पहुंच गए हैं। स्थानीय लोगों और गोताखोरों की मदद से लड़की को ढूंढा जा रहा है। मौके पर जो पुलिसकर्मी मौजूद थे, उनके बारे में भी जानकारी निकाली जा रही है। नदी में जाल भी डाला गया है। अभी तक लड़की का कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा है।''

इस खबर में पोल है। आगे बढ़ने से पहले इसमें हिस्सा ले सकते हैं।

5 किलोमीटर के एरिया में चल रहा सर्च ऑपरेशन

पुलिस का कहना है, "छात्रा 11 बजे काली नदी में कूद गई थी। तब से छात्रा की तलाश की जा रही है। स्थानीय गोताखोर छात्रा की तलाश कर रहे हैं। वहीं बोट से भी छात्रा को ढूंढा जा रहा है। 500 मीटर की दूरी तक जाल डाला गया है। 5 किलोमीटर की रेंज में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। बारिश होने के कारण सर्च ऑपरेशन में परेशानी आ रही है। पानी का लेवल भी बढ़ा हुआ है।"

बता दें, छात्रा कल्पना घर में सबसे छोटी है। उसकी 1 बड़ी बहन और 3 बड़े भाई हैं। कल्पना के तीनों भाई नोएडा में नौकरी करते हैं। पिता गांव में किसान हैं। घर में मां अपनी दो बेटियों के साथ रहती थीं। बारिश के कारण परिवार के लोग मौके पर नहीं पहुंच पा रहे हैं।