एटा में वाहनों से हटवाए गए हूटर:चालान भी काटे गए, पुलिस पूरे जिले में चला रही अभियान

एटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार से हूटर उतरवाते हुए पुलिसकर्मी। - Dainik Bhaskar
कार से हूटर उतरवाते हुए पुलिसकर्मी।

उत्तर प्रदेश शासन ने वाहनों से हूूटर हटवाने का आदेश जारी किया है। पुलिस ने आज पूरे जिले में अभियान चलाकर वाहनों से हूटर उतरवाए और उनका चालान भी किया। उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश पर ही एटा के जिला अधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने एटा जनपद के समस्त थानों को निर्देशित किया है कि वाहनों पर लगे हूटर तुरंत हटाए जाएं।

इसी आदेश के पालन के क्रम मे आज एटा कोतवाली नगर के इंस्पेक्टर डॉ 0 सुधीर राघव द्वारा अपने फ़ोर्स के साथ एटा शहऱ के कई क्षेत्रों मे हूटर लगे वाहनों की चेकिंग की गयी और वाहनों पर लगे हुए हूटरों को तुरंत हटाकर उनके चालान भी काटे गए।

वाहनों से काली फिल्मों को भी हटाया गया

इस अवसर पर एटा जनपद के टीएसआई और ट्रेफिक पुलिस के सिपाही भी हूटर लगी हुई गाड़ियों की चेकिंग मे लगे हुए थे। इस अवसर पर अनेको गाड़ियों ने अवैध तरीके से लगे हुए हूटरों को हटवाया गया। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बनने के बाद से ही प्रदेश मे वीआईपी कल्चर ख़त्म हो गया हैं। यहां तक कि मंत्रियों की लाल बत्ती और उनके हूटरों को भी प्रतिबंधित कर दिया गया। इसके साथ ही गाड़ियों मे लगी काली फ़िल्म को भी हटवाने का अभियान चलाया गया। एटा मे भी हूटरों को हटाने के साथ साथ काली फिल्मों को भी वाहनों से उतरवाने का अभियान चलाया गया है।

कई यूनियन के पदाधिकारी भी लगाते थे हूटर

इस सम्बन्ध में एटा कोतवाली नगर के इंस्पेक्टर डॉ. सुधीर राघव ने बताया कि जिला अधिकारी एटा के आदेश पर वाहनों पर अवैध ढंग से लगाए हुए हूटरों और काली फ़िल्म को हटाया जा रहा हैं। अधिकांश देखा गया है कि विभिन्न किसान यूनियन के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं द्वारा अपने वाहनों मे हूटर का प्रयोग किया जाता हैं। कई बार ज़ब इनके वाहन लाइन मे हूटर लगाकर चलते हैं तो लोगो समझते हैं कि कोई बड़ा वीआइपी आया हुआ है।

एटा के अतिरिक्त जलेसर थाना क्षेत्र मे भी थाना अध्यक्ष जलेसर जगदीश चंद्र द्वारा वाहनों से अवैध रूप से लगाए गए हूटरों को उतरवाया गया।

खबरें और भी हैं...