• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Etah
  • Devastation Due To Heavy Rains In Etah, Heavy Damage To Crops, More Than 20 People Injured Due To House Collapse In Many Areas, Administration Has Also Given School Holiday Today

एटा में बारिश से गिरे कई मकान:20 से अधिक लोग हुए घायल, भारी बारिश से किसानों की फसलों को नुकसान

एटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एटा जनपद में दो दिनों से हो रही बारिश रुकने का नाम ही नहीं ले रही हैं। बारिश के कारण अब लोगों का नुकसान होने लगा है। पूरे जनपद में हो रहे जल भराव के कारण लोगों को परेशानी हो रही है। वहीं दूसरी ओर भारी बारिश से मकान गिरने लगे लगे हैं। अब तक जनपद भर में कई गांवों और कस्बों में भारी बारिश से मकान धराशायी हो गए। जिसमें दबकर 20 लोग गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं। जिनका एटा मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा हैं। साथ ही भारी बारिश से किसानों की फसलों को भी नुकसान पहुंचा है।

मकान गिरने से 20 लोग दबे

एटा तहसील के गांव राम पुर घनश्याम पुर में एक मकान भारी बारिश से गिर गया। घर गिरने से 6 लोग दबकर गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। सभी घायलों को एटा मेडिकल कॉलेज मे भर्ती कराया गया हैं। अवागढ़ ब्लॉक के बेरनी गांव में बारिश से मकान गिरने से पति इंद्रजीत पत्नी मीरा देवी सहित तीन परिजनों घायल हो गए। जिनकी हालत गंभीर होने पर एटा मेडिकल कॉलेज. इ भर्ती कराया गया हैं। निधौली कला ब्लॉक के ममिया खेड़ा गॉव मे मकान गिरने से उसमे दबकर एक ही परिवार के 6लोग गंभीर घायल हो गए। घायलों को एटा मेडिकल कॉलेज मे भर्ती कराया गया हैँ।

घायलों को उपचार के लिए एंबुलेंस से भेजते हुए।
घायलों को उपचार के लिए एंबुलेंस से भेजते हुए।

खेतों में बिछ गईं फसलें

इसके अतिरिक्त मारहरा ब्लॉक के नगला परसी मे भी मकान गिरने से एक महिला घायल हो गयी। इसके अतिरिक्त अलीगंज और जलेसर में भी कई जगह बारिश के चलते मकान गिरने की खबर हैं। जिला प्रशासन उसका आंकलन करने मे जुटा है। भारी बारिश से एटा जनपद में किसानों की मक्का, बाजरा और धान की फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है। धान और बाजरा की फसल पकने के कगार पर थी परन्तु भारी बारिश से वो खेत में ही बिछ गयी।

गिरा पड़ा हुआ मकान।
गिरा पड़ा हुआ मकान।

नुकसान के लिए मुआवजे की मांग

इस सम्बन्ध मे एटा के डिप्टी डायरेक्टर ऑफ़ एग्रीकल्चर रोहिताश्व सिंह ने बताया कि बरसात के कारण जो धान, मक्का और बाजरा की फसल पकी खड़ी थी वो पानी मे गिर गयी है। जिससे उसको नुकसान हुआ हैं। उन्होंने बताया कि अभी बारिश हो रही है। इसके रुकने के बाद इस नुकसान का टीमें भेजकर आंकलन कराया जायेगा। उसके पश्चात राजस्व विभाग शासन के नियमों के अनुसार मुआवजा देने की कार्रवाई करेगा। एटा जिला प्रशासन भारी बारिश से जनपद मे हुए नुकसान का आंकलन करने मे जुट गया है जिससे दैवीय आपदा राहत कोष से पीड़ितों की सहायता की जा सके।

खेतों में बिछी पड़ी धान की फसल।
खेतों में बिछी पड़ी धान की फसल।

मोहल्लों में नहीं आ रही बिजली

दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के चलते एटा जनपद के अधिकांश हिस्से मे बिजली की सप्लाई बाधित हुई हैँ। कई काॅलोनियों में बीती रात से बिजली नहीं आयी है। जिसके चलते लोगों को पीने के पानी और नित्य क्रियाओं के लिये भी परेशान हैं। इस सम्बन्ध में विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियन्ता राज कुमार सिंह ने बताया कि भारी बारिश के चलते बिजली घर की कई मशीने ख़राब हो गयीं हैं जिसके कारण विद्युत आपूर्ति बाधित हुई हैँ। दिन रात युद्ध स्तर पर काम चल रहा है और बहुत जल्दी ही विद्युत व्यवस्था सुचारू कर दी जाएगी।

भारतीय किसान यूनियन किसान के राष्ट्रीय महासचिव शिव प्रताप सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से भारी बारिश के कारण किसानों को हुए नुकसान की भरपाई करवाने एवं आंकलन करवाकर समुचित मुआवजा देने की भी मांग की है।