एटा के पब्लिक प्लेसेज में मास्क न सोशल डिस्टेंसिंग:बाजारों में उमड़ रही बेतहाशा भीड़, कोरोना गाइडलाइन नहीं हो रही फॉलो

एटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एटा के व्यस्ततम गांधी मार्केट में बेतहाशा भीड़ उमड़ रही है। - Dainik Bhaskar
एटा के व्यस्ततम गांधी मार्केट में बेतहाशा भीड़ उमड़ रही है।

एटा के व्यस्ततम गांधी मार्केट में बेतहाशा भीड़ उमड़ रही है। पब्लिक प्लेसेज पर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग दोनों ही नजर नहीं आ रही है। लोग कोरोना और उसके ओमिक्रोन वैरिएंट को खुला आमंत्रण दे रहे हैं। जिला प्राशासन के भीड़ को रोकने के कोई इंतजाम नही हैं।

दरअसल, गांधी मार्केट में मंगलवार को बाजार लगती है। जिसमें लोग गर्म कपड़ों की खरीदारी करने आए थे। यहां पर कपड़े कम कीमत में मिल जाते हैं इसलिए मध्यम तबके व गरीब लोगों की भीड़ यहां उमड़ती है। बाजार में खरीददार करने आईं महिला मनोज गुप्ता कहती हैं कि यहां पर मास्क लगाकर आना चाहिए, लेकिन वो घर मास्क भूल गई हैं। जिला प्राशासन को भीड़भाड़ रोकनी चाहिए।

सरकार को लगाना चाहिए प्रतिबंध

केपी सिंह कहते हैं कि परिवार के लोग सौदा खरीदने आये हैं। उन्होंने कहा कि ये भीड़ नुकसान दायक है इस पर तो सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाना चाहिए। आम आदमी तो रुक नहीं सकता, उसे आवश्यकता होगी तो वो आएगा। मैं तो एक साइड से खड़ा हूँ। मास्क मेरे पास है लेकिन जब उनसे मास्क दिखाने को कहा गया तो वे दिखा नही सके।उन्होंने कहा कि खतरे से बचाव तो हमे खुद ही करना होगा।

प्रशासन को भीड़ रोकनी चाहिए

प्रिया ने बताया कि सावधानी बनाये रखिए ,ज्यादा भीड़ भाड़ न बनाये लेकिन जब उसने पूछा गया कि आपका मास्क कहां है तो वे भी बगले झांकने लगीं। फिर बोलीं कि मैं वैक्सीन लगवा चुकी हूं इसलिए मास्क नहीं लगाया लेकिन इनको ये नही पता कि जो वैक्सीन ले चुके हैं उनको भी सावधानी बरतनी आवश्यक है।वे कहतीं है कि उन्होंने ओमिक्रोन का नाम सुना है।सावधानी बरती जानी चाहिए और प्राशासन को इस तरह की भीड़ भाड़ रोकनी चाहिए।

ग्राहक आता है तो लगाते हैं मास्क

दुकानदार मोहम्मद उम्मीद कहते हैं कि हम बहुत सावधानी बरत रहे हैं। दूर दूर खड़े होकर बेंच रहे हैं। जब पूछा गया कि आपका मास्क कहाँ है तो उन्होंने कहा कि जब ग्राहक आ जाता है तब मास्क लगा लेते हैं। फिर बहाने बनाते हुए बोले कि चाय पीने के लिए मास्क उतार दिया है।