एटा में डाटा एंट्री आपरेटर भर्ती में घोटाला:अधिकारियों ने की धांधली, नाम किसी और का लिखा भर्ती किसी और को किया

एटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
युवती ने की धांधली को लेकर शिकायत। - Dainik Bhaskar
युवती ने की धांधली को लेकर शिकायत।

एटा के विकास अलीगंज की ग्राम पंचायत नगला उम्मेद में डाटा एंट्री आपरेटर भर्ती में बड़ा खेल हो गया है। जिसकी शिकायत जिले के आलाधिकारियों से की गई है। उत्तर प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक की भर्ती निकली गई थी। जिसकी भर्ती मैरिड के आधार पर हुई थी।

कोरोना महामारी में मरने वालों को वरीयता दी गई थी। निष्पक्ष भर्ती करने के निर्देश भी मुख्यमंत्री की तरफ से जारी किए गए थे। लेकिन जनपद एटा में मुख्यमंत्री के निर्देशों और शासनादेश को ताख पर रख कर अधीनस्थों ने भर्ती कर डाली।

किसी और का कर दिया चयन

मामले की शिकायत पात्र आवेदन कर्ता ने जिले के आलाधिकारियों से की है। नगला उम्मेद के मजरा नगला केसरी की रहने बाली प्रीती पुत्री रामौतार ने डाटा एंट्री आपरेटर के पद के लिए आवेदन किया था। भर्ती के दौरान आवेदिका के पक्ष में ही प्रस्ताव भी लिखा गया। लेकिन अधीनस्थों ने धांधली करके किसी और का चयन कर दिया।

अधिकारियों ने कही जांच करवाने की बात

आवेदिका का आरोप है कि उसकी मां का निधन कोविड महामारी के चलते हुआ था। उनकी मृत्यु के प्रमाण भी आवेदिका ने साझा किए हैं, लेकिन भर्ती में धांधली कर उसकी जगह किसी और का चयन किया गया है। मामले के सामने आते ही भर्ती प्रक्रिया पर सवाल उठने लगे हैं। हालांकि आवेदिका ने भर्ती की धांधली की शिकायत जिले के आलाधिकारियों से की है। मामला सामने आते ही अधिकारी जांच कराए जाने की बात कह रहे हैं।

जांच रिपोर्ट आने के बाद होगी कार्रवाई

मामले में अलीगंज के उप जिला अधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने बताया कि अलीगंज ब्लॉक की नगला उम्मेद की रहने वाली प्रीति का डाटा एंट्री ऑपरेटर की भर्ती का मामला संज्ञान में आया है।

जिसमें ग्राम पंचायत ने इनकी भर्ती का प्रस्ताव भी बनाकर भेजा है। लेकिन इस पद पर भर्ती किसी और की कर ली गई है। इस पूरे प्रकरण की जांच के लिए जिला पंचायत राज अधिकारी एटा को मेरे द्वारा जांच सौंपी गई है। जांच के बाद जो भी होगा, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।