इटावा...मां समेत दो बच्चों के शव तालाब में मिले:देर रात निकले थे घर से बाहर, रात भर खोजबीन करता रहा परिवार; पुलिस को आत्महत्या का अंदेशा

इटावा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मां बिट्टी और बेटा दिव्यांश की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
मां बिट्टी और बेटा दिव्यांश की फाइल फोटो।

इटावा के ऊसाहार इलाके सुजानपुर गांव से एक दर्दनाक खबर आई है। यहां मां समेत उसके दो बच्चों के शव तालाब में उतराते मिले हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। पूछताछ में पता चला है कि मां पवनेश कुमारी (30 वर्ष), दिव्यांश (6 वर्ष) और 4 साल की बेटी खुशी देर रात घर से बाहर निकले थे लेकिन लौट कर नहीं आये। जिसके बाद पति योगेश ने उन्हें ढूंढने की बहुत कोशिश की लेकिन वह नहीं मिले। सुबह तालाब में तीनों के शव देख कर गांव वालों ने पुलिस को सूचना दी। हालांकि, पुलिस मामले की गुत्थी सुलझाने में लगी हुई है लेकिन अधिकारी पारिवारिक कलह में आत्महत्या का अंदेशा जता रहे हैं।

परिजनों का कहना है हादसा हुआ है

दूश बेचने का काम करने वाले योगेश ने बताया कि रात में पत्नी पवनेश कुमारी शौच के लिए जा रही थी। बच्चे भी साथ जाने की जिद करने लगे। जिसके बाद वह बच्चों को भी साथ ले गई। जब काफी देर हो गई तो योगेश को चिंता हुई। घर वालों ने ढूंढना शुरू कर दिया। रात भर खोजबीन चली। सुबह गांव वालों से तलब में तीनों के शव मिलने की सूचना मिली। पुलिस की आत्महत्या की बात पर परिजनों का कहना है कि यह हादसा हो सकता है।

ससुर को है भूत-प्रेत की आशंका

वहीं योगेश के पिता का यह भी अंदेशा है कि हो ना हो किसी भूतप्रेत ने उनकी बहू और दोनो बच्चों को तालाब मे डुबा दिया हो। जिससे उनकी मौत हो गई। महिला के पति योगेश कुमार का कहना है कि अमूमन उनकी पत्नी शाम के समय शौच के लिए जाती थी।कल जब लौट कर नहीं आई तो उसकी खोजबीन की गई। योगेश का कहना है कि उसकी पत्नी से उसका किसी भी तरह की कोई अनबन या विवाद नही था। पुलिस टीम के साथ फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच गई है। वह घटना स्थल की जांच में जुटी हुई है। भर्थना के पुलिस उपाधीक्षक विजय सिंह ने बताया कि पूरे मामले को लेकर गहनता के साथ पड़ताल कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...