• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Etawah
  • Demonstration Against The Government In Etawah Collectorate: Bhim Army Declares Fight Till Justice Is Not Served; The Girl Had Died On August 17, The Family Members Had Accused Of Murder

इटावा कलेक्ट्रेट में पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन:भीम आर्मी ने न्याय न मिलने तक लड़ाई का ऐलान किया; 17 अगस्त को युवती की हो गई थी मौत, परिजनों ने हत्या का लगाया था आरोप

इटावा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भीम आर्मी ने सैकड़ों लोगों के साथ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। - Dainik Bhaskar
भीम आर्मी ने सैकड़ों लोगों के साथ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया।

इटावा में बुधवार को भीम आर्मी ने सैकड़ों लोगों के साथ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। भीम आर्मी ने न्याय न मिलने तक लड़ाई लड़ने का ऐलान किया है। दरअसल, दलित युवती के हत्या करने वाले सभासद के परिवार को गिरफ्तार करने और निर्दोष सूरज ट्यूटर को रिहा करने को लेकर हंगामा किया। वहीं पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। भीम आर्मी जिलाध्यक्ष अभिषेक आजाद ने पुलिस के द्वारा आरोपियों से मोटी रकम लेकर एक निर्दोष को जेल भेजने का आरोप लगाया है।

यह था मामला?

थाना कोतवाली क्षेत्र के करमगंज के निवासी सभासद रूबी दुबे के घर 17 अगस्त की शाम काम करने वाली लक्ष्मी (21) की संदिग्ध मौत हो गई थी। उसका शव फंदे से लटका मिला था। पुलिस ने आत्महत्या मानकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। लेकिन रिपोर्ट में युवती की हत्या की पुष्टि हुई। पुलिस ने नगर पालिका सभासद प्रेमलता दुबे, उसके पति दिलीप दुबे व उसके भाई को हिरासत में लेकर दो दिन तक छानबीन की। वहीं मामले में युवती के परिजनों ने महिला सभासद के पति सहित उसके भाई के खिलाफ हत्या की तहरीर दी थी।

सभासद रूबी दुबे के घर 17 अगस्त की शाम काम करने वाली लक्ष्मी (21) की संदिग्ध मौत हो गई थी।
सभासद रूबी दुबे के घर 17 अगस्त की शाम काम करने वाली लक्ष्मी (21) की संदिग्ध मौत हो गई थी।

पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया

कोतवाली पुलिस ने 20 अगस्त को चौकाने वाला खुलासा किया। पुलिस के मुताबिक सभासद की बच्ची को पढ़ाने वाले ट्यूटर सूरज का लक्ष्मी से प्रेम प्रसंग था। जिसमें विवाद के चलते उसने लक्ष्मी की हत्या कर दी। इसके बाद पुलिस ने नामित तीनों आरोपियों को छोड़ दिया और ट्यूटर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वहीं अब तक इस मामले में कई दलित संगठन भी शहर और कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं...