इटावा में डीजल चोर गैंग पुलिस की गिरफ्त में:ढाबे पर टैंकर खड़ा कर करते थे डीजल चोरी, 17 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया; तीन हजार लीटर डीजल बरामद

इटावा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसएसपी डॉ. बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि हमें बीते 3 से 4 महीनों से डीजल चोरी की सूचना मिल रही थी। - Dainik Bhaskar
एसएसपी डॉ. बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि हमें बीते 3 से 4 महीनों से डीजल चोरी की सूचना मिल रही थी।

इटावा में पुलिस और एसओजी की संयुक्त छापेमारी में देर रात डीजल चोरों का गैंग पुलिस की गिरफ्त में आया है। गैंग के 17 सदयों को पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस टीम ने इस गैंग को क्षेत्र के एक ढाबे पर छापा मारकर पकड़ा है। जहां रिलायंस पेट्रोलियम कंपनी के 8 टैंकर भी मिले हैं। जिसमे से तीन हजार लीटर डीजल बरामद किया गया है।

टैंकर ड्राइवर और ढाबा कर्मियों की मदद से चल रहा था गोरखधंधा

पुलिस ने छापा मारकर ढाबा कर्मचारी, टैंकर चालाक और चोरी का डीजल खरीदने आये लोगों को भी पकड़ा है। ढाबे पर उस वक्त भगदड़ सी मच गयी जब देर रात पुलिस ने ढाबे पर छापा मारा। अचानक खाना खाने वाले लोग इतनी बड़ी संख्या में पुलिस को देख डर गए। वहीँ डीजल चोरों को अनुमान लग गया कि पुलिस इन्ही के लिए आई है। पहले उन्होंने भागने का प्रयास किया लेकिन पुलिस से बच न सके।

8 टैंकर से हो रहा था डीजल चोरी

मौके से पुलिस को रिलायंस के 8 टैंकर मिले। साथ ही उनके ड्राइवरों को भी हिरासत में लिया गया। यही नहीं उनके साथ मिली भगत कर कम चोरी का डीजल बेचने में सहायता करने वाले ढाबा कर्मियों को भी पकड़ा गया। पकडे गए आरोपियों ने बताया कि कानपुर देहात से वह यह टैंकर मथुरा लेकर जा रहे थे। पुलिस अब इनसे पूछताछ कर आगे की जानकारी जुटा रही है।

मुखबिर की सूचना पर हुई छापेमारी

एसएसपी डॉ. बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि हमें बीते 3 से 4 महीनों से डीजल चोरी की सूचना मिल रही थी। जिसके बाद यह कार्रवाई की गयी है। 17 लोगों को हिरासत में लिया गया है। अब इसमें ढाबा संचालक की भूमिका की भी जांच हो रही हैं क्योंकि ढाबे में ड्रम में भरे तीन हजार लीटर डीजल बरामद हुआ है। पुलिस टीम ने ढाबा के कर्मचारियों, टैंकरों के चालकों, खलासी व चोरी का डीजल खरीदने आए समेत 17 लोगों को पकड़ा है।

खबरें और भी हैं...