पशु बीमार होने पर डायल करें 1962:इटावा में लम्पी वायरस टीकाकरण के लिए जिले को मिली चार एम्बुलेंस

इटावा3 महीने पहले

इटावा में पशुओं के इलाज लिए भी अब एम्बुलेंस की सुविधा उपलब्ध करवाई गई। डायल करें 1962 नम्बर उसके बाद सुविधा मिलेगी। जिसके लिए सरकार से जिले को चार एम्बुलेंस मिली है। जिसको विकास भवन से हरी झंडी दिखाकर ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए रवाना किया गया।

बताते चलें पशुओं को लम्पी वायरस से बचाने के लिए भारत सरकार के पशुपालन और डेयरी विभाग द्वारा मोबाइल पशु चिकित्सालय की 4 गाड़ियां उपलब्ध कराई गयी है। इन गाड़ियों के जरिए लम्पी वायरस के टीकाकरण को तेज करने व बीमार पशुओं के इलाज की भी व्यवस्था की गई है। जीवनदायिनी एंबुलेंस के तौर पर इसके लिए 1962 हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है। शुक्रवार को विकास भवन से 4 मोबाइल वेटरनरी क्लीनिक को झंडी दिखाकर सीडीओ संतोष कुमार राय, सीवीओ डॉ नीरज कुमार गौतम समेत अधिकारियों ने रवाना किया।

मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ नीरज कुमार गौतम ने बताया कि जिले में 46 हजार वैक्सीन वर्तमान में उपलब्ध है। साथ ही 5 ब्लॉक में टीकाकरण का प्रथम चरण लगभग पूरा हो गया है। दूसरे चरण में महेवा व भरथना ब्लॉक को लिया गया है जबकि तीसरे चरण में शनिवार से चकरनगर ब्लॉक में भी टीकाकरण शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले में एक पशु में कुछ लक्षण नजर आए हैं। जिसकी जांच के लिए पशु चिकित्सा अधिकारी को मौके पर भेज दिया गया। फिलहाल इन वाहनों के जरिए टीकाकरण की गति को तेज करने में मदद मिलेगी।

टीमों को समय पर पहुंचाने के साथ ही वैक्सीन को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में आ रही दिक्कतों को भी इन गाड़ियों के जरिए दूर किया जा सकेगा। यदि पशुपालकों को किसी भी जानवर में कोई लक्षण नजर आए तो तत्काल नजदीकी पशु चिकित्सालय अथवा पशुधन प्रसार अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं।