• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Etawah
  • Due To The Negligence Of The Driver, The Bus Collided With The Dumper, Himself Jumped From The Moving Bus; Death Of A Student; Five People Injured

इटावा में सड़क हादसा:ड्राइवर की लापरवाही से बस की डंपर से हुई टक्कर, खुद चलती बस से कूदा; एक छात्र की मौत; पांच लोग घायल

इटावा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इटावा में सड़क हादसे के बाद घालयों को साथियों ने सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में करवाया भर्ती। - Dainik Bhaskar
इटावा में सड़क हादसे के बाद घालयों को साथियों ने सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में करवाया भर्ती।

इटावा में एक प्राइवेट बस और डंपर की औरैया के थाना अजीतमल कोतवाली क्षेत्र के प्रतापपुर गांव के सामने भिड़ंत हो गई। इस हादसे में सैफई के एक छात्र की मौत हो गई। जबकि अन्य पांच लोग घायल हो गए है। जिनमें से दो लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। सभी को सैफई मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। यह सभी छात्र छतरपुर से परीक्षा देकर लौट रहे थे। बस का चालक लापरवाही से तेज गति में बस चला रहा था। कई जगह हादसा होते-होते बचा था। इस घटना से पहले बस चालक चलती बस से कूदकर भाग निकला। एक ही गांव के 9 छात्र थे सवार
सैफई थाना क्षेत्र के गांव चौबेपुर से शुक्रवार को ट्रिपल सी की परीक्षा के लिए 9 छात्र प्राइवेट बस से मध्य प्रदेश के जिला छतरपुर गए थे। मैनपुरी और इटावा के मिलाकर कुल 120 छात्र 3 बसों से गए थे। शनिवार सुबह 7 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक तीन पालियों में परीक्षा हुई थी। जिसके बाद शाम 7:30 बजे तीनों बसों में छात्र सवार होकर घर के लिए वापस आ रहे थे। पीछे चल रही बस के चालक ने लापरवाही व तेज गति से बस चलाना शुरु कर दिया। जिसका छात्रों ने कई जगह विरोध भी किया। उसने छात्रों की एक नहीं मानी और कहीं जगह हादसे होते-होते टला।

हादसा होने से पहले बस से कूदा चालक
रविवार सुबह 5 बजे जैसे ही बस जिला औरैया के थाना अजीतमल कोतवाली क्षेत्र के प्रतापपुर गांव के सामने पहुंची। चालक ओवर ब्रिज पर ओवरटेक करना चाह रहा था। जैसे ही उसे लगा कि हादसा हो सकता है। तो चालक चलती हुई बस से छलांग लगाकर कूद गया। जिस कारण आगे जा रहे डंपर में पीछे से बस भिड़ गई। टक्कर इतनी भयंकर थी कि बस की एक साइड के परखच्चे उड़ गए। 8 छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए।

छात्रों ने हाईवे पर किया हंगामा
जिसके बाद छात्रों ने 108 एंबुलेंस तथा पुलिस सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर पर सूचना दी। एक घंटे तक पुलिस प्रशासन भी मौके पर नहीं पहुंचा। जिसके बाद छात्रों ने हाईवे पर उपद्रव करना शुरू कर दिया। प्राइवेट बस से छात्रों ने घायल हुए साथियों को मेडिकल यूनिवर्सिटी सैफई में भर्ती कराया। जहां पहुंचते ही थाना सैफई के गांव चौबेपुर निवासी अंकुल पुत्र राजवीर सिंह यादव की भर्ती होते ही मौत हो गई। उसकी पत्नी 6 महीने की गर्भवती बताई जा रही है।

यह पांच हैं घायल
अमनदीप(18) पुत्र मिथलेश कुमार निवासी चौबेपुर
अंशुल(25) पुत्र योगराज
सौरभ (26) पुत्र संतोष कुमार
ऋषभ (18) पुत्र अनुराग
दीपक (24) पुत्र राधेश्याम
बस कंडक्टर गंभीर सिंह(30) पुत्र रामकिशन निवासी जिला मैनपुरी
सभी घायल गांव चौबेपुर थाना सैफई इटावा के निवासी है
घायल छात्रों से मिलने पीसीएफ चैयरमेन आदित्य यादव सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी पहुंचे। उनका हाल चाल जाना और मृतक छात्र के लिए अपनी शोक संवेदना व्यक्त की है।

खबरें और भी हैं...