अग्निपथ का विरोध का असर स्टेशन पर पसरा सन्नाटा:इटावा में प्रसाशन अलर्ट मोड पर, दो ट्रेनें हुई रद्द

इटावा6 महीने पहले
रेलवे स्टेशन पर पसरा सन्नाटा

इटावा में अग्निपथ भर्ती योजना का यात्रियों पर असर पड़ रहा है। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड पर यात्रियों की संख्या में भारी कमी देखने को मिल रही है। साथ ही रेलवे स्टेशन पर रुकने वाली नार्थ ईस्ट सुपरफास्ट, मुरी एक्सप्रेस को फिलहाल रद्द किया गया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से डीएम, एसएसपी सुबह तड़के से ही रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, जीआईसी मैदान में निरीक्षण करने पहुंचे। साथ ही इन्ही स्थानों पर भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है।

सरकार की नीति का विरोध

केंद्र सरकार द्वारा अग्निपथ योजना के तहत युवाओं को नौकरी देने की घोषणा सरकार के लिए परेशानी का सबब बन गयी है। पूरे देश में युवा हिंसक प्रदर्शन कर रहे है। और सरकार के इस रोजगार का विरोध जता रहे हैं। पांच दिन से लगातार उत्तर प्रदेश समेत देश के अलग अलग राज्यों में हिंसक घटनाएं हो रही है, बस, रेल, थाने चौकियों को आग के हवाले कर दिया गया। और अब विपक्षी पार्टियां भी सरकार के इस फैसले पर अपना विरोध जता रहे है। इसी लिए पुलिस प्रशासन भी ऐसी घटनाएं जिले में घटित न हो उसके लिए जिला प्रशासन अपने स्तर से सावधानी बरत रहा है।

स्टेशन पर एसएसपी निरीक्षण निरीक्षण करते हुए
स्टेशन पर एसएसपी निरीक्षण निरीक्षण करते हुए

अधिकारियों ने किया निरीक्षण

जिसके लिए डीएम, एसएसपी दिन में अलग अलग क्षेत्रो में जाकर निरीक्षण कर रहे है। जिससे कि जिले में किसी प्रकार का कोई विरोध प्रदर्शन न हो सकें। हालांकि जिले में अभी तक किसी प्रकार के विरोध प्रदर्शन की सूचनाएं नही आई है। और प्रशासन भी कड़ी सावधानी बरत रहा है।

पुलिस प्रसाशन की युवाओं से अपील

जिले के डीएम एसएसपी लगातार कोचिंग सेंटरों में और आर्मी की तैयारी करने वाले युवाओं से लगातार संपर्क कर रहा है। और उनको अग्निपथ योजना के बारे जानकारियां उपलब्ध करवा रहा है। जिससे कि जिले को विरोध प्रदर्शन न हो सकें। जंक्शन अधीक्षक पूरन मीणा ने बताया कि फिलहाल सुरक्षा की दृष्टि से दो ट्रेनों को ऊपर से रद्द किया गया है। इस स्टेशन पर कुल 68 ट्रेन रुकती है। जिसमें 12 पैसेंजर ट्रेन है। 56 सुपरफास्ट, एक्सप्रेस रुकती है जिनमें से 2 ट्रेन जो दिल्ली से हावड़ा की ओर जाती है। और यह अग्निपथ के विरोध के चलते ही रद्द की गई है।