• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Etawah
  • Highway Blocked By Keeping Prisoner's Body In Etawah: There Was A Ruckus On The Information Of The Death Of The Father Of The Deceased Who Was In Jail, He Calmed Down After Talking On The Phone.

इटावा में कैदी का शव रखकर हाइवे किया जाम:जेल में बंद मृतक के पिता की मौत की सूचना पर हंगामा किया, फोन पर बात होने शांत हुए

इटावा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अधिकारियों ने कैदी के पिता से ग्रामीणों की फोन पर बात कराई। इसके बाद मामला शांत हुआ। - Dainik Bhaskar
अधिकारियों ने कैदी के पिता से ग्रामीणों की फोन पर बात कराई। इसके बाद मामला शांत हुआ।

इटावा में कैदी का शव रखकर लोगों ने इटावा-कन्नौज हाईव जाम कर दिया। बतया जा रहा है कि जेल में मृतक के पिता की मौत की सूचना पर ग्रमाीणों ने हंगामा किया। मामले की जानकारी पर पुलिस और प्रशानिक अधिकारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। अधिकारियों ने कैदी के पिता से ग्रामीणों की फोन पर बात कराई। इसके बाद मामला शांत हुआ।

दरअसल, भरथना कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बाहरपुरा की रहने वाली नव विवाहिता मेघा देवी ने दो जनवरी को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मायके वालों की तहरीर पर पुलिस ने दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। मामले में मृतका के पति दीपक शाक्य, ससुर विश्वनाथ, सास सरला देवी को अरोपी बनाया गया था। पुलिस ने पति और ससुर को जेल भेज दिया था।

दीपक के परिवार वालों ने सड़क पद शव रखकर जाम लगाया।
दीपक के परिवार वालों ने सड़क पद शव रखकर जाम लगाया।

एक दिन पहले बेटे की हुई थी मौत

गुरुवार को जेल में बंद दीपक की संदिग्ध दशा में मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बार रात करीब 8:30 बजे पुलिस ने शव परिवार वालों को सौंप दिया। साथ ही गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया। शुक्रवार को किसी ने जेल में बंद कैदी के पिता की मौत की अफवाह फैला दी। इससे आक्रोशित परिवार वालों ने सैकड़ों ग्रामीणों के साथ हाईवे पर जाम लगाकर हंगामा करने लगे।

सूचना पर वरिष्ठ जेल अधीक्षक रामधनी मौके पर पहुंचे। उन्होंने जेल में बंद कैदी के पिता विश्वनाथ से फोन के जरिए बात कराई। जिसके बाद ग्रामीणा शांत हुए।