सुहागरात पर दुल्हन से गैंगरेप:इटावा में 4 दिन बाद आया होश तो बोली- पति ने नशे की गोली दी, फिर दो दोस्तों संग किया दुष्कर्म

इटावा8 महीने पहले
सुहागरात के दिन नवविवाहिता से दरिंदगी, खुद बयां किया दर्द।

इटावा में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां सुहागरात पर दूल्हे ने 2 दोस्तों के साथ मिलकर अपनी पत्नी के साथ गैंगरेप किया। ये चौंकाने वाली घटना इटावा के चौबिया की है। गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती नवविवाहिता को आज 4 दिन बाद शुक्रवार को होश आया तो उसने अपना दर्द परिवार वालों से सुनाया। पुलिस अब दुल्हन के फरार पति और उसके दोस्तों की तलाश कर रही है। पीड़िता का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

'मुझे कुछ खिला दिया, नहीं रहा होश'
पीड़िता बोली- 'मेरी विदाई 29 नवंबर को हुई थी। घर आने के बाद पति ने मुझे थकान दूर करने के लिए कोई गोली खिला दी। मैंने देखा कि उसने खुद भी गोली खाई। रात 12 बजे मेरी आंख खुली तो मैंने किसी को अपने साथ संबंध बनाते हुए देखा। कमरे में पति भी मौजूद था। उससे कहा तो वो पीटने लगे'।

'मेरे गहने और नए कपड़े पहले ही उतारे जा चुके थे। मुझे फटी मैक्सी पहना दी। मुझे घर से भगाया जाने लगा। वो लोग कौन थे। मैं नहीं जानती। मुझसे कहने लगे कि तुम्हारे 4-5 महीने का बच्चा था। तुमने अबॉर्शन कराया है'।

मां ने कहा- बेटी को देखने भी कोई नहीं आया

इकदिल थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली लड़की की शादी 28 नवंबर को चौबिया के एक गांव में हुई थी। नवविवाहिता की मां का आरोप है कि बेटी की हालत बिगड़ने पर शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया। इलाज कैसे हो रहा है? मेरी बेटी की तबीयत कैसी है? कोई देखने तक नहीं आया।

जिला महिला अस्पताल में चल रहा है पीड़िता का इलाज।
जिला महिला अस्पताल में चल रहा है पीड़िता का इलाज।

फोन पर कहा-आपकी बेटी की तबीयत खराब है, फिर भाग गए
पीड़िता की मां ने बताया कि ससुरालवालों ने फोन पर जानकारी दी कि बेटी की तबीयत खराब है। वह अस्पताल में भर्ती है। जब हम लोग अस्पताल पहुंचे तो ससुराल वाले वहां से फरार हो गए। मां ने बताया कि निजी अस्पताल में हालत बिगड़ने पर बुधवार देर शाम इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं पीड़िता के पिता ने चौबिया थाने में दूल्हे और उसके दो दोस्तों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है।

जिला महिला अस्पताल की सीएमएस डॉ. कजरी गुप्ता।
जिला महिला अस्पताल की सीएमएस डॉ. कजरी गुप्ता।

अल्ट्रासाउंड से स्पष्ट हो सकेगा कि अबॉर्शन करवाया है या नहीं
जिला महिला अस्पताल की सीएमएस डॉ. कजरी गुप्ता ने बताया कि पीड़िता की हालत में सुधार है। गैंगरेप की बात जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगी। काफी ब्लीडिंग हो चुकी थी। पीड़िता का अभी अल्ट्रासाउंड भी करवाया जाना है। जिससे स्पष्ट हो सकेगा कि पीड़िता ने हाल ही में अबॉर्शन करवाया है या नहीं। वहीं SSP जय प्रकाश सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसी आधार पर की कार्रवाई की जाएगी।