इटावा में अग्निश्मन विभाग ने चलाया अभियान:व्यावसायिक प्रतिष्ठानों का किया निरीक्षण,उपकरणों और एनओसी की हुई चेकिंग

इटावा3 महीने पहले
फायर सिस्टम की जानकारी लेते हुए अग्निशमन अधिकारी

इटावा में अग्निशमन अधिकारी ने शहर में कई व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर जाकर फायर सेफ्टी उपकरणों की चेकिंग की। एनओसी तक नहीं दिखा पाए संचालक नोटिस सभी को नोटिस दिए जाएंगे। कई व्यवसायियों को अग्निशमन अधिकारी क्या होते है पता ही नही।

नही दिखा पाए फायर सिस्टम एनओसी

आपको बता दें अग्निशमन विभाग की ओर से आम नागरिकों की सुरक्षा को लेकर जिले में व्यवसायिक प्रतिष्ठानों होटल मॉल व अन्य वैसे बड़े प्रतिष्ठानों पर फायर सेफ्टी उपकरणों की जांच की जा रही है। जहां पर आम नागरिक अपनी जरूरतों के के चलते शॉपिंग आदि करने पहुंचते हैं। शनिवार को अग्निशमन विभाग के सीएफओ तबारक हुसैन ने अपनी टीम के साथ शहर के 1 दर्जन से अधिक ऐसे व्यवसायिक प्रतिष्ठानों होटलों आदि पर पहुंच कर फायर सेफ्टी उपकरणों की जांच की जिनमे लुहन्ना चौराहा स्थित कृष्णा होटल, बस स्टैंड पर होटल अनुराग पैलेस, तकिया आजाद गान पर स्लीपवेल शोरुम, एवन होटल तथा मिश्रा ऑटोमोबाइल्स समेत अन्य आधा दर्जन व्यवसायिक संस्थान चेक किए गए। जहां फायर सेफ्टी के नाम पर सिर्फ महज एक दो सिलेंडर लगे मिले। बिल्डिंग में आग बुझाने के लिए उपकरण व प्रबंधन नहीं होने पर उन्होंने कड़ी नाराजगी भी जताई है।

फायर एनओसी की जांच करते हुए अधिकारी
फायर एनओसी की जांच करते हुए अधिकारी

अग्निशमन क्या होता लोगों को नही पता

यही नही ज्यादातर प्रतिष्ठानों के मालिकों बिल्डिंग बनाए जाने के दौरान फायर विभाग से ली जाने वाली एनओसी भी नही दिखा पाए। इस पर अग्निशमन अधिकारी ने सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को नोटिस देने की बात कही और 15 दिन के भीतर उपकरण आदि लगाने के आदेश दिए। तबारक हुसैन ने कहा कि अगर फिर भी सुधार नही किया गया तो फिर अग्निशमन विभाग ऐसे प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई भी करेगा।