सैफई मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों की हड़ताल:बोले- NEET-PG के बैच नहीं आ रहे, ओवरलोड काम से हैं परेशान

इटावा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सैफई मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों की हड़ताल। - Dainik Bhaskar
सैफई मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों की हड़ताल।

इटावा के सैफई मेडिकल कॉलेज में आज जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर हैं। ओपीडी बंद होने से मरीज परेशान हैं। डाक्टर्स की मांग है कि नीट और पीजी के बैच न आने से दिक्कत हो रही है। ओवरलोड काम होने से नहीं मरीजों का इलाज नहीं कर पा रहे हैं। वहीं हड़ताल के कारण बाहर से आए मरीजों का ओपीडी में पर्चा न बनने से तीमारदार चक्कर काट रहे हैं।

शासन को पत्र लिखा गया है

सीएमएस प्रोफेसर आदेश कुमार ने बताया कि जूनियर डॉक्टर्स का बैच न आने के कारण काम ओवरलोड हो चुका है। ओपीडी करने वाले टीम ओवरलोड से परेशान है। शासन को पत्र लिखा गया है। इमरजेंसी सेवाएं चल रही हैं। मेडिकल कॉलेज में प्रतिदिन लगभग 2 हजार मरीजों की ओपीडी होती है। लगभग एक दर्जन जनपदों से मरीज आते हैं।

मरीज दिखे परेशान

सैफई मेडिकल कॉलेज में लगभग एक दर्जन जनपदों से आने वाले हजारों मरीजों का प्रतिदिन इलाज होता है। इस मेडिकल कॉलेज में लगभग प्रतिदिन दो हजार मरीजों को देखकर उनकी बीमारी का इलाज किया जाता है। आज कई मरीज परेशान दिखाई दिए। कुछ मरीज प्रयागराज और मैनपुरी के आए थे, जो अधिक परेशान थे। क्योंकि पर्चा नहीं बन रहा था।

जल्द से जल्द बैच भेजा जाए

100 से ज्यादा जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर हैं। जूनियर डॉक्टर ओपीडी में मरीजों को देखते हैं। उन्होंने काम बंद कर रखा है। सभी डॉक्टर ओपीडी गेट के बाहर धरने पर बैठे हुए है। हाथ में पोस्टर-बैनर लेकर अत्यधिक काम और NEET-PG के बैच न आने के कारण उनकी समस्याएं अधिक हैं। जिस वजह से उन्होंने ओपीडी बंद कर रखी है। सरकार से मांग की है कि पीजी और जूनियर डॉक्टर्स के बैच को भेजा जाए।