पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इटावा में दुकानदार पिटता रहा,पुलिस देखती रही:पुलिस के सामने दबंगो ने दुकानदार को पीटा, सिपाही बने रहे तमाशबीन; थाने में पीड़ित का कर दिया चालान

इटावा7 दिन पहले
इटावा में पुलिस के सामने दबंगो ने दुकानदार को दुकान से निकालकर पीटा।

उत्तर प्रदेश के इटावा में दबंगो की खुलेआम दबंगई का मामला सामने आया है। यहां करीब 6 बदमाश दो सिपाहियों को लेकर एक दुकान में पहुंचे। जहां बैठे तीन भाइयों को उन्होनें पीटना शुरू कर दिया। तीनों भाइयों ने वहां मौजूद पुलिसकर्मियों से मदद की गुहार लगाई। पर वह दोनों केवल अपने मोबाइल से वीडियो बनाते रहे। पीड़ित जब थान में शिकायत दर्ज करवाने पहुंचे। तो उल्टा पुलिस ने उन्हीं के खिलाफ 151 का चालान कर दिया। जिस जगह यह मारपीट हुई। वहां से चंद कदमों की दूरी पर तकिया पुलिस चौकी है।

आधा दर्जन लोगों ने किया हमला
मामला कोतवाली क्षेत्र के रामलीला रोड का है। जहां कटरा टेकचंद्र निवासी शरद अग्रवाल की बीआर ऑयल्स के नाम से रिफाइंड, डालडा की थोक की दुकान है। जहां मंगलवार की शाम उनके छोटे भाई गौरव, अंकुर व चचेरा भाई राहुल अग्रवाल बैठे हुए थे। तभी शाम करीब साढे़ पांच बजे 6 लोग 2 सिपाहियों को साथ लेकर दुकान पर पहुंचे। दुकान में घुसकर अंदर बैठे भाइयों के साथ मारपीट करने लग गए। विरोध करने पर उन्हें दुकान से बाहर निकालकर लात-घूसों से पुलिस के सामने मारा गया। युवकों ने पुलिस से मदद मांगी। पर वह लोग सिर्फ मारपीट का वीडियो बनाते रहे।

पीड़ितों के खिलाफ दर्ज किया मामला
गौरव अग्रवाल ने आरोप लगाया है कि वह शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंचा था। जहां पुलिस ने पीड़ितों के साथ उसे भी बैठा लिया। बाद में उसका 151 का चालान कर दिया गया। वहां से निकलकर वह एसएसपी से मिलने पहुंचा। तो पीआरओ ने मामला सीओ के पास ट्रांसफर कर दिया। वह जब सीओ से मिलने पहुंचा तो थाना पुलिस ने फिर से उसको एक घण्टे के लिए थाने में बैठा दिया। उससे लिखित में ले लिया कि वह अब कोई कार्रवाई नही चाहता है। पुलिस ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी। मौके पर सिपाहियों के मौजूद होने की बात निराधार बताई है।