इटावा में थाना प्रभारी पर लगा रेप का आरोप:महिला ने ससुरालियों के खिलाफ की थी शिकायत, बयान दर्ज कराने के बहाने बुलाकर किया रेप

इटावा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इटावा में थाना प्रभारी पर लगा रेप का आरोप। - Dainik Bhaskar
इटावा में थाना प्रभारी पर लगा रेप का आरोप।

इटावा जिले में तत्कालीन भरेह थाना प्रभारी पर दुष्कर्म का आरोप लगा है। महिला ने बताया कि उसने पति और ससुरालियों के खिलाफ मारपीट की शिकायत दर्ज कराई थी। तत्कालीन भरेह थाना प्रभारी ने बयान दर्ज करवाने के बहाने शहर के होटल में बुलाकर कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। महिला ने बताया कि वह और उसके पिता अधिकारियों के यहां चक्कर काट रहे हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

पुलिस के द्वारा सुनवाई न होने से हताश पीड़िता ने आज अपनी शिकायत ट्विटर के माध्यम से की। इस पूरे मामले पर जब लखनऊ से पुलिस अधिकारियों ने संज्ञान लिया तब जाकर इटावा पुलिस की नींद खुली। एसपी ने मामले की जांच सीओ चकरनगर को सौंप दी है। जानकारी के मुताबिक दारोगा का स्थानांतरण 2 माह पूर्व महोबा जनपद हो चुका है।

पति-पत्नी को बुलाया थाने

पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी थाना चकरनगर क्षेत्र में मोहित नाम के व्यक्ति से हुई थी। शादी के कुछ समय बाद पति-पत्नी में वाद-विवाद होने लगा। पीड़िता ने अपने पति के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का प्रार्थना पत्र थाना भरेह में दिया था, जिसके बाद एसओ महेंद्र प्रताप सिंह ने पीड़िता के परिजनों को थाने बुलाया और समझौता करवा दिया था। इसके कुछ दिन में एसओ का तबादला चकरनगर थाने में हो गया था। इसी थाना क्षेत्र में पीड़िता की ससुराल भी है। थाने पर आने के बाद एसओ ने पीड़िता के पति को बुलाकर कहा कि ससुर ने तुम्हारे विरुद्ध दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज करवाया है। इसलिए तुमको और तुम्हारी पत्नी को थाने बुलाया है।

पत्नी-पत्नी को दी जेल भेजने की धमकी

महिला ने 28 जनवरी 2021 को उसे और उसके पति को अपनी कार में बैठाकर कोतवाली क्षेत्र के होटल विशाल प्रेम लेकर पहुंचे। होटल के कमरे में ले जाकर उसके पति से खाने से का सामान लाने के लिए कहा, जिसके बाद एसओ ने उसकी साथ मर्जी के विरुद्ध गलत काम किया। जब उसने विरोध किया तो उसे और उसके पति को जेल भेजने की धमकी दी, जिसके बाद पीड़िता के पति को भी धमकी देकर शांत करवा दिया।

खबरें और भी हैं...