एंबुलेंस में गूंजी किलकारी:इटावा के सैफई का मामला, प्रसव पीड़ा बढ़ने पर रोकी गई गाड़ी, महिला ने बेटी को दिया जन्म

सैफई, इटावा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इटावा के सैफई में गर्भवती महिलाओं को अस्पताल ले जाने वाली एंबुलेंस लोगों के लिए मददगार बनी हुई है। इसका एक ताजा उदाहरण मकर संक्रांति के पर्व के दिन शुक्रवार को सैफई हवाई पट्टी नहर लोहिया पुल के पास देखने को मिला। गर्भवती महिला को लेने के लिए घर पहुंची एंबुलेंस उसे लेकर अस्पताल तक नहीं पहुंच पाई। एंबुलेंस में ही महिला ने बेटी को जन्म दिया।

एम्बुलेंस में तैनात स्वास्थ्यकर्मियों की तत्परता, कुशलता एवं अनुभव से गर्भवती का एंबुलेंस में ही सुरक्षित प्रसव कराया गया। सैफई तहसील क्षेत्र के गांव नगला जगत हरदोई निवासी रुचि 21 वर्षीय पत्नी दिलीप कुमार को शुक्रवार सुबह 6 बजे प्रसव पीड़ा हुई। परिजनों ने इसकी सूचना 108 एंबुलेंस को दी।

एंबुलेंस कर्मी रुचि को लेकर बसरेहर सीएचसी जा रहे थे। इसके बाद जैसे ही एंबुलेंस सैफई हवाई पट्टी से गुजरने वाली नहर पटरी सड़क पर लोहिया पुल के पास पहुंची तो रुचि की प्रसव पीड़ा बढ़ गई। इसके बाद एंबुलेंस में तैनात ईएमटी रूमल सिंह ने लोहिया पुल के पास सड़क किनारे एंबुलेंस खड़ी करके सूझबूझ के साथ रुचि का सुरक्षित प्रसव कराया। बेटी को जन्म दिया। इसके बाद जच्चा-बच्ची को सीएससी बसरेहर में भर्ती करा दिया गया। डॉक्टर ने जांच के बाद बताया कि जच्चा-बच्ची दोनों ही पूरी तरह सुरक्षित हैं। परिजनों ने सुरक्षित प्रसव कराने के लिए एंबुलेंस कर्मचारियों की सराहना की।

खबरें और भी हैं...