पांचाल घाट में स्वामी प्रसाद मौर्य का फूंका गया पुतला:मेला रामनगरिया के संतों ने की जमकर नारेबाजी, FIR दर्ज करने की उठी मांग

अमृतपुर (फर्रुखाबाद)14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य रामचरितमानस पर दिए गए बयान को लेकर अब विवादों में घिरे नजर आ रहे हैं। उनका हर जगह विरोध हो रहा है। श्री दशनाम जूना अखाड़ा मेला अध्यक्ष सत्य गिरी ने स्वामी प्रसाद मौर्य की गिरफ्तारी की मांग की है।

सपा नेता और एमएलसी स्वामी प्रसाद मौर्य ने रामचरितमानस के दोहे और चौपाई पर आपत्ति जताई थी। इस पर फर्रुखाबाद में मेला रामनगरिया में आए संत समाज ने कड़ी फटकार लगाई है। मेला में आए संत महात्माओं ने कहा कि रामायण में किसी भी व्यक्ति या किसी भी जाति के उत्पीड़न करने की बात नहीं है। श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा के मेला अध्यक्ष सत्य गिरी के नेतृत्व में साधु संत ने बीच रामनगरिया में पुतला फूंक कर नारेबाजी की।

साधु संतों ने स्वामी प्रसाद मौर्या का पुतला फूंका
फर्रुखाबाद के पांचाल घाट मेला रामनगरिया में श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा मेला अध्यक्ष सत्य गिरी दर्जनों साधु-संतों ने पुतला फूंका। इस दौरान उन्होंने नारेबाजी भी की। वहीं सत्य गिरी ने बताया कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने हिंदू ग्रंथ रामचरितमानस को लेकर विवादित बयान दिया है। उनका हर जगह विरोध हो रहा है। कहा कि रामचरितमानस पूजनीय धार्मिक ग्रंथ है। इस बयान से 100 करोड़ हिंदुओं की आस्थाओं को ठेस पहुंची है। इसलिए हम लोग इसका पूरी तरह से विरोध कर रहे हैं।

श्री दशनाम जूना अखाड़ा मेला अध्यक्ष सत्य गिरी ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य पर मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।
श्री दशनाम जूना अखाड़ा मेला अध्यक्ष सत्य गिरी ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य पर मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।

स्वामी प्रसाद मौर्य की गिरफ्तारी की मांग की
मांग किया कि पुलिस मुकदमा दर्ज कर उनकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी करे। भोलेपुर हनुमान मंदिर के संत बालक दास ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य पूर्ण रूप से विक्षिप्त हो गए हैं। इनकी मानसिकता राम विरोधी रही है। वह इस समय ऐसे लोगों के हाथों में है। जिन्होंने राम भक्तों पर गोलियां चलाई थीं। फर्रुखाबाद पांचाल घाट मेला रामनगरिया श्री दशनाम जूना अखाड़ा मेला अध्यक्ष सत्य गिरी ने बताया कि मेला रामनगरिया में आए के संत समाज इसका विरोध करेंगे।

खबरें और भी हैं...