फर्रुखाबाद में गेहूं क्रय केंद्रों पर सन्नाटा:खरीद के लिए खोले गए हैं 40 क्रय केंद्र, 39 क्रय केंद्रों पर नहीं हुई शुरुआत

फर्रुखाबाद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजेपुर स्थित क्रय केंद्र की हालत। - Dainik Bhaskar
राजेपुर स्थित क्रय केंद्र की हालत।

फर्रुखाबाद जनपद में गेहूं की सरकारी खरीद शुरू 11 दिन बीत चुके हैं। इसके बाद भी 39 क्रय केंद्रों पर गेहूं की बोहनी तक नहीं हुई है। जबकि खरीद के लिए जिला प्रशासन द्वारा 40 क्रय केंद्र बनाए गए हैं।

जिले में न्यूनतम समर्थन मूल्य 2015 रुपए प्रति कुंटल के हिसाब से गेहूं की सरकारी खरीद हो रही है। जहां किसान को 20 रुपए लेबर का भुगतान प्रति क्विंटल के हिसाब से करना पड़ता है । जिले में सरकारी खरीद के लिए 40 क्रय केंद्र खोले गए हैं। जहां राजेपुर स्थित क्रय केंद्र पर 54 कुंटल गेहूं की खरीद की गई है। इसके अलावा अन्य क्रय केंद्रों पर बोहनी तक नहीं हुई है। किसान क्रय केंद्रों पर गेहूं लेकर पहुंची नहीं रहे हैं।

इन एजेंसियों के खोले गए क्रय केंद्र
जिले में सरकारी खरीद के लिए 40 क्रय केंद्र खोले गए हैं जहां 31 क्रय केंद्र पीसीएफ के हैं। जबकि खाद्य विभाग के आठ और एफसीआई का एक क्रय केंद बनाया गया हैं।

किसानों से किया जा रहा है संपर्क
जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी विवेक सिंह ने बताया अभी तक राज्य पुर क्रय केंद्र पर एक किसान से साडे 54 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। अन्य केंद्रों पर किसानों ने गेहूं बेचने के लिए संपर्क किया है। थ्रेसरिंग भी अब तेजी से शुरू हो गई है। इससे एक सप्ताह में गेहूं खरीद की रफ्तार बढ़ने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...