फर्रुखाबाद में विटामिन ए संपूर्ण अभियान की शुरुआत:डीएम ने अभियान का किया शुभारंभ, 2.37 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी दवा

फर्रुखाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीएम संजय सिंह ने फीता काटकर अभियान का शुभारंभ किया है। - Dainik Bhaskar
डीएम संजय सिंह ने फीता काटकर अभियान का शुभारंभ किया है।

फर्रुखाबाद डीएम संजय सिंह और पूर्व विधायक कुलदीप गंगवार ने रविवार को बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई। सिविल अस्पताल लिंजीगंज में बच्चों को दवा पिलाकर विटामिन ए संपूर्ण अभियान की शुरुआत की।

अभियान के तहत 9 महीने से 5 साल तक के बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, रतौंधी समेत अन्य बीमारियों से बचाने के लिए विटामिन ए की खुराक पिलाई जा रही है। जिले में 2.37 लाख बच्चों को को विटामिल ए की खुराक पिलाने का लक्ष्य मिला है।

विटामिन ए से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अवनीन्द्र कुमार ने कहा कि कोरोना काल से लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता के प्रति जागरूकता बढ़ी है। बच्चों को बीमारियों से बचाने के लिए उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। बच्चों को पौष्टिक आहार के साथ-साथ विटामिन ए की खुराक लेना अति महत्वपूर्ण है।

नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाने से उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और कुपोषण में भी कमी आती है। बच्चों में विटामिन ए की कमी से वह लगातार बीमार पड़ते हैं। आंखें कमजोर पड़ती है। वहीं इसकी कमी से संक्रमण वृद्धि व त्वचा में रूखापन भी शामिल है।

बच्चे को दवा पिलाते सीएमओ।
बच्चे को दवा पिलाते सीएमओ।

छह महीने के अंतराल पर चलता है अभियान
सिविल अस्पताल लिंजीगंज के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. आरिफ सिद्दीकी ने कहा कि विटामिन ए बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए बेहद आवश्यक है। इसकी महत्ता को देखते हुए यह अभियान छ महीने के अंतराल पर चलाया जाता है ताकि कोई बच्चा विटामिन ए की कमी से बीमार न रहे।

उन्होंने कहा विटामिन ए बच्चों का सुरक्षा कवच है। यह आंखों की बीमारियों जैसे रतौंधी,अंधता से बचाव के साथ साथ शारीरिक विकास के लिए भी आवश्यक है। विटामिन ए बच्चों में दस्त, निमोनिया जैसी घातक बीमारियों के प्रभाव से भी सुरक्षा करती है।

विटामिन एक की कमी को दूर करना लक्ष्य
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. प्रभात वर्मा ने बताया बच्चों में विटामिन ए की कमी को दूर करना ही इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत 9 माह से 5 वर्ष तक के लगभग 2,37,411 बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी।

आगे कहा कि 9 महीने से 12 महीने के 13,913 बच्चे, एक साल से दो साल के 52,428 बच्चे और दो साल से पांच साल के लगभग 1,71,070 बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी। इस दौरान डॉ. नवनीत गुप्ता, विजय शंकर तिवारी, निशा, राजीव चौहान, मानव शर्मा और सादिया आदि मौजूद रहीं।

खबरें और भी हैं...