फर्रुखाबाद में अतिक्रमण पर चला प्रशासन का बुलडोजर:चार मंजिल भवन स्वामी पर 20 लाख का लगा जुर्माना, व्यापारियों ने टीम पर लगाए पक्षपात का आरोप

फर्रुखाबाद10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फतेहगढ़ में चलता बुलडोजर - Dainik Bhaskar
फतेहगढ़ में चलता बुलडोजर

फर्रुखाबाद के फतेहगढ़ में शनिवार को अतिक्रमण अभियान जारी रहा। जहां आरोप प्रत्यारोप के बीच पुलमंडी से नवदिया तक का अतिक्रमण हटाया गया। इससे व्यपारियों सहित मकान के स्वामियों में अफरा तफरी का माहौल रहा। कई बार बुलडोजर को रोकने की कोशिश की गई, लेकिन पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में उनकी एक न चली।

गरीबों पर उत्पीड़न का लगा आरोप
जिले में शनिवार को पुलगालिब से नबदिया की तरफ बुलडोजर चला। जैसे ही बुलडोजर चलना शुरु हुआ। अधिकारियों पर गरीबों का उत्पीड़न करने के आरोप भी लगाए जाने लगे। नगर मजिस्ट्रेट दीपाली भार्गव व ईओ नगर पालिका रविन्द्र कुमार के नेतृत्व में फतेहगढ़ के पुल मंडी में अभियान चलाया गया। पुल मंडी नाले के पास बने सुनीता कनौजिया के मकान के बाहर का अतिक्रमण हटाया गया। सुनीता ने आरोप लगाया की अन्य तमाम दुकानें और घर जो नाले के आगे बने हैं उन्हें नही गिराया गया।

दो मंजिले का नक्शा नहीं था पास
उसके पास में ही एक चार मंजिल भवन को भी नहीं छुआ गया। जिसमें दो मंजिल का नक्शा पास है जबकि चार मंजिल बना है। उसे भी छोड़ दिया गया| जबकि उनके मकान में भी भीतर तक चूना डाल दिया गया। अधिकारियों ने बताया की चार मंजिल के भवन स्वामी पर 21 लाख रूपए जुर्माना लगाया जा रहा है। इसके बाद जेसीबी ने शांति नगर स्थित शाशि प्रिंटिंग प्रेस के बाहर के अतिक्रमण को तोड़ दिया गया। इसी तरफ से जेसीबी चलते हुए नवदिया तक पंहुची। शान्ति नगर के निकट 14-14 मीटर सड़क दोनों तरफ ली गई।

25 दुकानें हुई ध्वस्त
फतेहगढ़ में शनिवार को अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान 25 दुकानों के आगे के हिस्से को तोड़ा गया। वहीं 12 मकान भी इसकी चपेट में आए। मकान बचाने को लेकर लोग अधिकारियों की जी हजूरी करते रहे, लेकिन अधिकारियों द्वारा उनकी एक न सुनी गई।

बरसात में होती है जलभराव की समस्या
सिटी मजिस्ट्रेट दीपाली भार्गव ने बताया लोगों द्वारा नाले के ऊपर अतिक्रमण कर लिया गया था। इससे नाले की सफाई नहीं हो पा रही थी। बरसात में जल भराव की समस्या हो जाती थी। किसी के साथ पक्षपात नहीं किया जा रहा है। चार मंजिल मकान को भी ध्वस्त कराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...