नायब तहसीलदार को बंधक बनाने का प्रयास:फर्रुखाबाद में कब्जे वाली जमीन पर फसल काटने गए थे अधिकारी, ग्रामीणों ने खुद पर आत्महत्या का प्रयास किया

फर्रुखाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फर्रुखाबाद के राजेपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांव सबलपुर में 250 बीघा भूमि पर खड़ी गेहूं की फसल को काटने के लिए मंगलवार की शाम नायब तहसीलदार सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर गए। - Dainik Bhaskar
फर्रुखाबाद के राजेपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांव सबलपुर में 250 बीघा भूमि पर खड़ी गेहूं की फसल को काटने के लिए मंगलवार की शाम नायब तहसीलदार सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर गए।

फर्रुखाबाद के राजेपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांव सबलपुर में 250 बीघा भूमि पर खड़ी गेहूं की फसल को काटने के लिए मंगलवार की शाम नायब तहसीलदार सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर गए। इस पर किसानों से अधिकारियों की नोकझोंक हो गई। मामला बढ़ने पर किसानों ने नायब तहसीलदार को बंधक बनाने का प्रयास किया। इस पर नायब तहसीलदार ने एक युवक के थप्पड़ मार दिया। इस पर किसान आक्रोशित हो गए और उन्होंने आत्मदाह का प्रयास किया।

गांव सबलपुर में 250 बीघा भूमि पर ग्रामीणों का कब्जा है। जिस पर वर्तमान में गेहूं की पकी फसल खड़ी है। मंगलवार की शाम नायब तहसीलदार हर्षित सिंह राजस्व टीम को लेकर मशीन से गेहूं काटने पहुंचे। जिसका ग्रामीणों ने विरोध किया तो हंगामा हो गया। ग्रामीणों का कहना था कि वह गेहूं नहीं काटने देंगे। नायब तहसीलदार का आरोप है कि ग्रामीणों ने उन्हें बंधक बनाने का प्रयास किया। इस दौरान ग्रामीण गोविंद को नायब तहसीलदार ने थप्पड़ मार दिया। इससे ग्रामीण आक्रोशित हो उठे। गोविंद, कलावती, जगरानी और गंगा ने खुद पर डीजल डालकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। हालत बिगड़ने पर ग्रामीणों को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। सूचना पर पहुंची थाना अध्यक्ष दिनेश गौतम ने मामले को समझ कर शांत कराया।

चल रहा है पुराना विवाद
250 बीघा भूमि को लेकर किसानों का प्रशासन से पुराना विवाद चल रहा है। ग्रामीणों के अनुसार उनकी पट्टे की भूमि है। जबकि राजस्व टीम के मुताबिक भूमि सरकारी है। लिहाजा ग्रामीणों ने इस भूमि पर हाई कोर्ट से स्टे ले रखा है पूर्व में भारतीय किसान यूनियन भी इस भूमि पैमाइश के विरोध में धरना प्रदर्शन कर चुकी है । विगत दिनों भूमि की पैमाइश के लिए कमेटी का गठन किया गया था।

किसान यूनियन ने प्रशासनिक अधिकारियों पर मुकदमे की उठाई मांग

किसानों द्वारा आत्महत्या के प्रयास को लेकर लोहिया अस्पताल में भर्ती गोविंद, कलावती, जगरानी, गंगा से हाल-चाल लेने भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष अरविंद साथ मंडल अध्यक्ष प्रभा कांत मिश्रा पूर्व प्रधान रामबीर लोहिया अस्पताल जा पहुंचे। इस दौरान मंडल अध्यक्ष रमाकांत मिश्रा ने बताया जिन अधिकारियों ने ग्रामीणों को आत्महत्या के लिए प्रेरित किया ।उनके खिलाफ यह मुकदमा दर्ज नहीं होगा तो भारतीय किसान यूनियन में कलेक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन करेगी।

बोले जिम्मेदार
राजेपुर थाना अध्यक्ष दिनेश गौतम ने बताया नायब तहसीलदार को बंधक बनाए जाने का मामला फर्जी है ग्रामीणों ने पैमाइश के विरोध में डीजल डाल लिया था लेकिन किसी प्रकार की अनहोनी नहीं हुई है कहाकि राजस्व टीम वहाँ पैमाइस करने गई थी।

खबरें और भी हैं...