त्योहार को लेकर बढ़ी भीड़ प्राइवेट वाहन कर रहे मनमानी:छोटे रूट पर जाने वाले यात्रियों को बस न होने से हो रही दिक्कत

फर्रुखाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बस में चढ़ने को लेकर मची धक्का मुक्की। - Dainik Bhaskar
बस में चढ़ने को लेकर मची धक्का मुक्की।

रक्षाबंधन का त्योहार बृहस्पतिवार और शुक्रवार को है। इसको लेकर बड़ी संख्या में लोग दूसरे जनपदों से अपने घरों को लौटकर वापस आ रहे हैं। ऐसे में रोडवेज बसों में सीट मिलना मुश्किल हो गया है। छोटे रूट पर तो बसें मिल ही नहीं रही हैं। इसे लेकर प्राइवेट वाहनों में मनमानी चल रही है, डेढ़ गुना तक किराया वसूला जा रहा है।

खिड़की के सहारे बस में चढ़ता युवक।
खिड़की के सहारे बस में चढ़ता युवक।

बृहस्पतिवार को दोपहर एक बजे तक डिपो से कुल 27 बसें दिल्ली के आंनद बिहार जा चुकी थीं। वहीं अन्य मार्गों पर भी बसें भेजी गईं। इसके बावूजद रोडवेज बस स्टैंड पर यात्रियों की भीड़ जमा थी। दोपहर के बाद अलीगंज, मैनपुरी, बेबर, बदायूं, कन्नौज, कानपुर आद‌ि रूटों पर जाने के लिए यात्रियों को बस नहीं मिल रही थीं। आलम यह था कि ऑटो बुक कर यात्री अलीगंज सहित कायमगंज तक जा रहे थे। ऑटो चालक भी यात्रियों से मनमाना किराया वसूल रहे थे। जबकि अन्य प्राइवेट वाहनों में भी इसी तरह की मनमानी चल रही थी।

बस में चढ़ने को लेकर यात्रियों में मची धक्का मुक्की।
बस में चढ़ने को लेकर यात्रियों में मची धक्का मुक्की।

बस आते ही दौड़ रहे यात्री

रोडवेज बस स्टैंड पर जैसे ही बस पहुंची है। वहां बस के इंतजार में खड़े यात्री बसों की तरफ दौड़ पड़ते हैं। वहीं सीट को लेकर भी मारामारी है।

रोडवेज बस स्टैंड पर खिड़की के सहारे बच्चे को अंदर करती महिला।
रोडवेज बस स्टैंड पर खिड़की के सहारे बच्चे को अंदर करती महिला।

खिड़की के सहारे बच्चों को किया अंदर

बृहस्पतिवार को रोडवेज बस स्टैंड पर भीड़ अधिक थी। यात्री सीट को लेकर खिड़की के मध्यम से सामान सहित बच्चों को अंदर कर रहे थे। कई बार यात्रियों में धक्का मुक्की तक हो गई।