नशे में धुत दरोगा ने कार से 2 को रौंदा:1 की मौत, पुलिस-परिजनों के बीच नोकझोंक, कानपुर प्रयागराज हाईवे पर हुआ हादसा

फतेहपुर4 महीने पहले

फतेहपुर में नशे में धुत दरोगा ने निजी गाड़ी से दो मजदूरों को रौंद दिया। इससे एक युवक की मौके पर मौत हो गई, जबकि 1 युवक गंभीर रूप घायल हो गया। हादसा कानपुर प्रयागराज हाईवे पर हुआ। मौके पर मौजूद लोगों ने उसकी सूचना को पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची।

यह फोटो जिला अस्पताल की है। जहां युवक के परिजन मौत की सूचना पहुंचे हैं।
यह फोटो जिला अस्पताल की है। जहां युवक के परिजन मौत की सूचना पहुंचे हैं।

घायल और शव को जिला अस्पताल में लाया गया। शव को लेकर सड़क जाम करने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस शव छिनने लगी। इसी को लेकर परिजनों और पुलिस में हाथापाई हो गई। पुलिस की सूचना पर एसडीएम सदर एनपी मौर्य और सीओ सीटी दिनेश चंद्र मिश्रा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे हैं।

दारोगा पर कार्रवाई का आश्वासन देकर परिजनों को मनाया। वहीं परिजन इस बात को लेकर अड़े हैं कि दरोगा का मेडिकल टेस्ट कराया जाए। मृतक का नाम मो. साहिल है। जबकि घायल का नाम मो. जफर है। दोनों के मसवानी के रहने वाले हैं। दरोगा का रवि गौतम है। वे बसेवर थाने में एसआई के पद पर तैनात हैं।

परिजनों के हंगामे के बाद मौके पर जुटी फोर्स
परिजनों के हंगामे के बाद मौके पर जुटी फोर्स

90 से अधिक थी कार की स्पीड
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, दरोगा रवि गौतम की कार स्पीड 90 के पार रही होगी। इस दौरान सड़क के किनारे चल रहे दोनों युवकों को रौंद दिया। हम लोग दौड़कर पहुंचे। लेकिन, तब तक एक की मौत हो चुकी थी। दरोगा वर्दी में था और नशे में धुत था।

DSP बोले- दरोगा का कराया जा रहा मेडिकल
डीएसपी दिनेश चंद्र मिश्रा ने कहा," दरोगा की गाड़ी से एक युवक की मौत हुई है। एक घायल हुआ है। दोनों की ट्रक मैकेनिक हैं। वे काम करके घर लौट रहे थे। इसी दौरान हादसा हुआ है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घायल को अस्पताल में भर्ती कराया है। दरोगा का मेडिकल कराया जा रहा है। दोषी पाए जाने पर कार्रवाई होगी।"

खबरें और भी हैं...