फतेहपुर में पिता-पुत्र समेत तीन गिरफ्तार:2017 में अपहरण कर किया था निकाह, 6 मई को आरोपियों के चंगुल से निकली युवती

फतेहपुर5 दिन पहले

यूपी के फतेहपुर जिले में युवती का अपहरण, दुष्कर्म व धर्मांतरण कर निकाह करने का मामला सामने आया है। पीड़ित पिता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी युवक व उसके भाई-पिता को गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई की है।

जिले की सदर कोतवाली प्रभारी आनंद प्रकाश शुक्ला ने बताया कि कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति ने तहरीर दी कि उसकी बेटी को एक युवक मो. अरशद उर्फ कृष्णा उम्र 24 वर्ष अपहरण कर दुष्कर्म करने के बाद जबरन धर्म परिवर्तन करा कर निकाह कर लिया था। जिस पर मुकदमा दर्ज कर आरोपी युवक उसके भाई मो. मोसिन, पिता मो. राशिद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की कार्रवाई की गई है।

यह था मामला

जिले की सदर कोतवाली क्षेत्र में धर्म छिपाकर एक युवती को प्रेम जाल में फंसाने के बाद युवक ने दुष्कर्म किया। उसके बाद जबरन धर्म परिवर्तन कराकर निकाह कर लिया। इस मामले में युवती पिता के साथ एसपी से पांच दिन पहले मिली थी। जहां युवती ने एसपी को बताया था कि 2017 में कक्षा 11वीं पढ़ने के दौरान स्कूल आते जाते एक युवक पीछा किया करता था। उसने अपना नाम कृष्णा ठाकुर बताया और फोन पर बातचीत करने लगा।

दिल्ली ले जाकर किया दुष्कर्म

एक दिन बहलाकर बिंदकी मंदिर ले गया रास्ते में वह सुनसान जगह पर शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। जून 2018 में इंटर पास कर अपने पैतृक गांव गोरखपुर चली गई। अक्टूबर 2018 में शादी के बहाने दिल्ली ले जाकर 10 दिन तक शारीरिक संबंध बनाए।

सात पहले युुवती को हुई थी बेटी

युवती ने एसपी को बताया था कि आरोपी उसको वहां से चित्रकूट कर्वी ले गया। तब उसका असली नाम मो. अरशद बताया। दो माह बाद युवक के पिता, मां व भाई कर्वी आकर जिले में वापस आने पर जबरन धर्म परिवर्तन कराकर निकाह करा दिया था और 2019 में कचहरी से एक राजीनामा बनवाया। जिसमें उसके हस्ताक्षर करवाए। सात माह पहले एक बेटी पैदा हुई थी। युवती ने बताया कि वह 6 मई को आरोपियों के चंगुल से छूटकर वहां से भाग निकली, उसके बाद उसने अपने पिता को पूरा घटनाक्रम बताया।

खबरें और भी हैं...