फतेहपुर में शराब तस्कर गैंग के लीडर की 33 लाख:डीएम के निर्देश पर कार्यवाही, एक साल पहले अपमिश्रित शराब पीने से दो मजदूरों की हुई थी मौत

फतेहपुर3 महीने पहले

यूपी के फतेहपुर जिले में शराब माफियाओं पर जिला प्रशासन का चाबुक चल रहा है। जिसको लेकर जिलाधिकारी के निर्देश पर एसडीएम व सीओ ने पुलिस बल के साथ एक गैंगस्टर एक्ट के अपराधी व शराब गैंग का लीडर के खिलाफ अपमिश्रित शराब बेचकर जमा की गई संपत्ति को कुर्क करने की कार्यवाही की है।

अपमिश्रित शराब के व्यापारियों की संपत्ति जब्त करने घर पहुंची पुलिस टीम।
अपमिश्रित शराब के व्यापारियों की संपत्ति जब्त करने घर पहुंची पुलिस टीम।

अपमिश्रित​​​​​​​ शराब के व्यापारियों की संपत्ति जब्त

डीएसपी जाफरगंज अनिल कुमार सिंह ने बताया कि गाजीपुर थाना क्षेत्र के जैतपुर गांव का रहना वाला दुर्गेश सिंह उर्फ सीमू सिंह पुत्र राजेन्द्र सिंह जो अपमिश्रित शराब बेचने का गैंग लीडर है और गैंग के सदस्यों के साथ मिलकर अवैध संपत्ति अर्जित किया था। जिस पर जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे के निर्देश पर 33 लाख की संपत्ति कुर्क किया गया है। जिसमें दो ट्रैक्टर, एक बाइक, एक जेसीबी मशीन व एक टवेरा गाड़ी शामिल है साथ ही बैंक खाता भी सीज किया गया।

पूर्व एसपी सतपाल ने किया था गैंग का खुलासा

आपको बता दें कि एक वर्ष पहले गाजीपुर थाना क्षेत्र के खेसहन गांव में अपमिश्रित शराब पीने से दो मजदूरों की मौत हुई थी और तीन का इलाज कानपुर में हुआ था। जिस पर पूर्व में रहे एसपी सतपाल अंतिल ने इस गैंग का खुलासा किया था और कार्यवाही ना करने पर दो दरोगा सहित चार पुलिसकर्मी निलंबित हुए थे। साथ ही थाना में रह चुके कई प्रभारियों पर जांच शुरू कराया था। जिस पर डीएम के निर्देश पर यह कुर्क करने की कार्यवाही सदर एसडीएम एन पी मौर्या, डीएसपी अनिल कुमार सिंह व गाजीपुर व ललौली थाना प्रभारी की मौजूदगी में कुर्क किया गया।

खबरें और भी हैं...