फतेहपुर….मोबाइल चलाने के लिए डांटा तो बेटे ने लगाई फांसी:काम पर जाने से पहले मां ने मोबाइल चलाने के लिए डांटा, लौटकर देखा तो फंदे पर लटका मिला बेटा

फतेहपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोबाइल चलाने के लिए डांटा तो बेटे ने लगाई फांसी। - Dainik Bhaskar
मोबाइल चलाने के लिए डांटा तो बेटे ने लगाई फांसी।

फतेहपुर जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के तुरबली का पुरवा में एक महिला ने अपने 17 वर्षीय बेटे को मोबाइल देखने को लेकर डांट दिया, जिससे क्षुब्ध होकर बेटे ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

फोन चलाने को लेकर मां ने डांटा

मृतक किशोर की मां सुमन ने बताया कि शाम चार बजे घर से जाते समय बेटा करन (17) को बाहर घूमने-फिरने की बात कही और दिन भर फोन पर लगे रहने को लेकर डांट दिया। उसके बाद घर से काम पर चली गई। घर पर कोई नहीं था। पति नरेश लोडर चलाते हैं। जब घर वापस आई तो बेटे का शव फांसी पर लटका मिला।

परिजनों ने पुलिस को तहरीर नहीं दी है

कोतवाली प्रभारी अनूप सिंह ने बताया कि एक 17 साल के लड़के ने फांसी लगाकर जान दी है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामले की जांच की रही है। अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली है। बता दें कि मृतक करन की मां सुमन लोगों के घरों में बर्तन धोने का काम करती हैं और पिता नरेश लोडर चालक हैं। एक छोटा भाई 10 साल का है।

खबरें और भी हैं...