फिरोजाबाद में आज ITBP के हाथ में रहेगी सुरक्षा:2 हजार पुलिसकर्मी, 3 कंपनी PAC रहेगी तैनात; कारखानों में होगा काम

फिरोजाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जुमे की नमाज को लेकर आज फिरोजाबाद शहर में सुरक्षा की जिम्मेदारी ITBP के हाथ में रहेगी। कारखानों में काम होगा तो वहीं शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की सुरक्षा रहेगी। पिछली बार शुक्रवार को जुमे की नमाज के दौरान कारखानों में काम नहीं हुआ था, इससे उद्यमियों को नुकसान का सामना करना पड़ा था। पुलिस अब वॉट्सऐप, ट्वीटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम, यू-ट्यूब पर नजर रख रही है।

भड़काऊ पोस्ट पर एडमिन जाएगा जेल
SSP आशीष तिवारी ने बताया, जुमे की नमाज सकुशल संपन्न कराने के लिए सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है। भड़काऊ पोस्ट पर ग्रुप एडमिन के विरुद्ध मुकदमा होगा। जिले भर में 2 हजार पुलिस बल, 3 कंपनी PAC, केन्द्रीय पुलिस बल ITBP की 1 कंपनी विभिन्न स्थानों पर तैनात की जाएगी। ड्रोन कैमरों, वीडियोग्राफी से निगरानी की जाएगी।

कारखानों में काम रहा था ठप
पिछले शुक्रवार को समुदाय विशेष के मजदूरों के काम पर न आने के कारण 70 प्रतिशत चूड़ी कारखानों में काम पूरी तरह ठप हो गया, जिसमें उद्यमियों को दोहरा नुकसान झेलना पड़ा था। DM रवि रंजन और SSP आशीष तिवारी ने चूड़ी कारखानों का निरीक्षण किया था। उन्होंने स्पष्ट कहा है कि जुमे के दिन चूड़ी कारखानों में किसी तरह का अवकाश नहीं रहेगा। अनुशासनहीन मजदूरों को काली सूची में डाला जाएगा। जिला व पुलिस प्रशासन के सख्त रुख को देखते हुए श्रीनाथ ग्लास वर्क्स में उद्यमियों की अहम बैठक हुई।

पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर दिए गए दिशा-निर्देश।
पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर दिए गए दिशा-निर्देश।

हर चूड़ी कारखानों में होगा काम
अध्यक्ष बिन्नी मित्तल ने कहा, सभी चूड़ी कारखानों में हर हाल में काम करना होगा। यदि किसी कारखाने में काम नहीं लगता है तो इसकी जिम्मेदारी मैनेजर व जगइयों की होगी। उद्यमियों ने सभी मैनेजर व जगइयों (श्रमिकों को ले जाने वाले ठेकेदार के कर्मचारी) को सख्त हिदायत की कि हर हाल में सुबह निर्धारित समय पर कारखानों में काम होगा। किसी मजदूर को ड्यूटी समाप्त होने से पहले छुट्टी नहीं दी जाएगी।

जुलूस निकालने का किया था प्रयास
भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के विवादित बयान के बाद माहौल गरमाया हुआ है। पिछले शुक्रवार को नमाज के बाद शहर में 3 और शिकोहाबाद में एक जगह विरोध प्रदर्शन करने का प्रयास किया गया। हंगामा, नारेबाजी हुई। अनहोनी की आशंका में प्रशासन को हाईवे पर बड़े वाहनों का प्रवेश बंद करना पड़ा। इस शुक्रवार को ऐसा कुछ न हो, इसके लिए प्रशासन पूरा प्रयास कर रहा है। अब मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी अपनी तरफ से प्रयास तेज कर दिए हैं।

भीड़ रोकने के लिए बनाया गया मोर्चा
मुफ्ती कासिम रजी ने बताया, नैनी चौराहा, जाटवपुरी चौराहा, कश्मीरी गेट, नगला बरी, हाजीपुरा तिराहा सहित कई स्थानों पर मोर्चा बनाया गया है, जहां क्षेत्रीय पार्षद अपनी 10 लोगों की टीम के साथ उपस्थित रहेंगे। ये भीड़ इकट्ठा होने से रोकेंगे और नमाज के बाद लोगों को घर, दुकानों पर वापस जाने के लिए प्रेरित करेंगे।