फिरोजाबाद में डेंगू को लेकर किया जाएगा जागरूक:71 टीमें घर-घर जाएंगी, 22 अधिकारियों की लगी ड्यूटी; पिछले साल डेंगू से हुई थी सैकड़ों बच्चों की मौत

फिरोजाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फिरोजाबाद में साल 2021 में बारिश के मौसम में फैली डेंगू महामारी में तमाम लोगों ने अपने बच्चों को खोया। नगर निगम के लाख प्रयास के बाद भी इस बीमारी पर नियंत्रण नहीं पाया जा सका था। करीब डेढ़ महीने तक लोगों के दिलों में डेंगू को लेकर दहशत थी। इस बार ऐसा कुछ न हो, इसलिए बारिश शुरू होने से पहले ही नगर निगम ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। शहर भर में 71 टीमें गठित की गई हैं। इनकी निगरानी के लिए 22 अधिकारियों को लगाया गया है।

घर-घर जाएंगी नगर निगम की टीम
बारिश के मौसम में संचारी रोग नियंत्रण के लिए नगर निगम प्रशासन पूरी तरह अलर्ट हो गया है। प्रत्येक वार्ड में बेहतर सफाई, खाली प्लाटों से पानी की निकासी, कीटनाशक दवा का निरंतर छिड़काव कराया जाएगा। साथ ही लोगों को जागरूक करने के लिए घर-घर टीमें दौड़ेंगी।

पिछले साल नई आबादी के इलाकों में गंदगी व जलभराव के चलते घर-घर चारपाई बिछ गई थी। डेंगू की चपेट में आने कई मासूम बच्चों की जान चली गई। नई आबादी वाले इलाकों में फिर हालात न बिगड़ें, इसके लिए नगर निगम प्रशासन ने पूरी कार्य योजना बना ली है।

अभी तक वार्डों के खाली पड़े प्लाटों में गंदा पानी भरा हुआ है।
अभी तक वार्डों के खाली पड़े प्लाटों में गंदा पानी भरा हुआ है।

इन अधिकारियों को लगाया गया
नगर आयुक्त प्रेरणा शर्मा ने प्रत्येक वार्ड में निरीक्षण के लिए अपर नगर आयुक्त, उप नगर आयुक्त, मुख्य अभियंता, एक्सईएन सहित 22 अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। सभी अधिकारी सुबह 6 बजे से आवंटित वार्डों का प्रतिदिन निरीक्षण कर रिपोर्ट देंगे।

हर वार्ड में लोगों को बीमारियों से बचाव को लेकर जागरूक करने के लिए 70 टीमों का गठन किया गया है। वहीं एक टीम रिजर्व में रखी गई है। नगर स्वास्थ्य अधिकारी, जेडएसओ, सेनेटरी इंस्पेक्टर व सुपरवाइजरों को प्रत्येक वार्डों में बेहतर सफाई व खाली प्लाटों से पानी निकासी व दवा छिड़काव की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

टीम द्वारा लोगों को जागरूक किया जा रहा है।
टीम द्वारा लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

घरों में चस्पा कराए जा रहे स्टीकर
संचारी रोग नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा ​विभिन्न ऐसे मोहल्ले, जिनमें डेंगू फैला था- झलकारी नगर, ककरऊ, गंगा नगर, ऐलान नगर, बजरंग नगर में जागरूकता अभियान चलाया गया। बीमारियों से बचाव के लिए घर-घर स्टीकर चस्पा कराए गए। नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रताप सिंह ने बीमारियों से बचाव के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करने, ताजा भोजन व स्वच्छ पानी पीने, सड़कों पर कूड़ा न डालने के लिए प्रेरित किया।

यह है शहर का हाल

  • फिरोजाबाद की आबादी करीब 28 लाख।
  • नगर निगम फिरोजाबाद में 80 वार्ड।
  • डेंगू महामारी से करीब 150 से अधिक बच्चों की हुई थी मौत।
खबरें और भी हैं...