• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Firozabad
  • The Elder Brother, Who Was In Debt, Shot And Killed The Sleeping Younger Brother, Then Committed Suicide Himself; Mentally Disturbed Written In Suicide Note

कर्ज ने ले ली दो भाइयों की जान:फिरोजाबाद में सूदखोरों के डर से छोटे भाई को गोली मारकर बड़े ने खुद को भी उड़ाया, बेटे के इलाज से कर्ज में थे

फिरोजाबाद3 महीने पहले
छोटे भाई को गोली मारकर बड़े ने खुद को गोली मारी और गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचा, जहां बड़े की भी मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में भाई से भाई के प्रेम का एक जानलेवा वाकया सामने आया है। यहां बड़े भाई ने अपने छोटे भाई को सिर्फ इसलिए गोली मारकर खुद जान दे दी, ताकि कर्जदार उसे परेशान न करें। मामला चौंकाने वाला है। बड़े भाई ने बेटे के इलाज के लिए 7 लाख रुपए कर्ज लिया था। उसे वह वापस नहीं कर पा रहा था।

इसी कारण वह डिप्रेशन में रहने लगा। इसी डिप्रेशन में उसने सुसाइड का निर्णय ले लिया। लेकिन उसे अविवाहित छोटे भाई की भी चिंता थी। इसलिए पहले उसने अपने सोते हुए छोटे भाई की बंदूक से गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद पर भी फायर कर जान दे दी।

परिजनों ने जब गोली चलने की आवाज सुनी तो वह भागकर कमरे में पहुंचे। जहां उन्होंने देखा कि छोटा भाई मृत पड़ा है तो वहीं बड़ा भाई जमीन पर लहूलुहान पड़ा तड़प रहा था। अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई।

बेटे के इलाज के लिए लिया था 7 लाख कर्ज

पचोखरा क्षेत्र के हिम्मतपुर गांव की यह घटना है। जहां के निवासी प्रेमशंकर(55) और उसका छोटा भाई प्रेमचन्द्र (52) एक ही मकान में रहते थे। प्रेमचन्द्र अविवाहित था। जबकि प्रेमशंकर की पत्नी की दो साल पहले मौत हो गई थी। प्रेमशंकर के दो बेटे हैं। कुछ दिन पहले प्रेम शंकर के बड़े बेटे को फालिश मार गई। उसके इलाज के लिए उसने करीब 7 लाख रुपए कर्ज लेना पड़ गया। बेटा तो कुछ रिकवर हुआ लेकिन प्रेम शंकर पर भारी कर्ज हो गया। इसको लेकर वह काफी परेशान रहता था। छोटे भाई की शादी नहीं हुई थी। इस कारण वह उसको लेकर भी चिंतित रहता था। उसका मानना था कि मेरे बाद छोटे भाई की देखरेख कौन करेगा। कर्जदार भी छोटे भाई को ही परेशान करेंगे। इसलिए भावना में आकर उसने पहले छोटे भाई की हत्या की फिर खुद जान दी।

पुलिस ने घर पहुंचकर छानबीन की है।
पुलिस ने घर पहुंचकर छानबीन की है।

पुलिस ने सुसाइड नोट और देशी बंदूक की बरामद

सोमवार की रात करीब 3 बजे परिजनों को गोली चलने की आवाज सुनाई पड़ी। वह लोग जब कमरे में पहुंचे तो देखा कि प्रेमचंद्र का शव कमरे में पड़ा है। वहीं प्रेमशंकर गंभीर हालत में जमीन पर पड़ा तड़प रहा है। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल को अस्पताल पहुंचाया। वहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

घटनास्थल पर से पुलिस ने एक देशी बंदूक और सुसाइड नोट बरामद किया। सुसाइड नोट में लिखा था कि मृतक आत्महत्या करने जा रहा है। इसके लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया जाना चाहिए। पुलिस ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इस घटना की जांच शुरू कर दी गई है।

खबरें और भी हैं...